दिल्ली HC का वॉट्सऐप को निर्देश- 25 सितंबर के बाद के ही डेटा फेसबुक से करे शेयर

नई दिल्ली (23 सितंबर): वॉट्सऐप के डेटा को फेसबुक पर शेयर करने के मामले में दिल्ली हाई कोर्ट ने निर्देश दिए हैं। कोर्ट ने वॉट्सऐप को निर्देश देते हुए कहा है कि वह 25 सितंबर के बाद के ही डेटा को फेसबुक के साथ शेयर करे।

दिल्ली हाई कोर्ट ने वॉट्सऐप को अपनी नई पॉलिसी को लागू करने के लिए हरी झंडी दे दी है। हालांकि कोर्ट ने कहा है कि जिन ग्राहकों ने अपने अकाउंट रिमूव करने का फैसला किया है, उनकी जानकारी फेसबुक पर शेयर ना की जाए। इसी के साथ हाई कोर्ट ने ट्राई को भी निर्देश दिए हैं कि वह वॉट्सऐप की इस पॉलिसी पर निगरानी रखे।

हाइकोर्ट का ये फैसला उस पीआईएल पर आया है जिसमें वॉट्सऐप की जानकारी फेसबुक से शेयर करने की पॉलिसी को चुनौती दी गई थी। आपको बता दें कि वॉट्सऐप के नए अपडेट में कंपनी की नई पॉलिसी के लिए यूजर्स की सहमति मांगी जा रही है। इस नई पॉलिसी के तहत वॉट्सऐप अपने यूजर्स का नंबर अपनी पैरेंट कंपनी फेसबुक के साथ साझा करेगा।

याचिका में कहा गया था कि फेसबुक की ये नई पॉलिसी बेहद भ्रामक है जिसका नफा-नुकसान आम आदमी आसानी से नहीं समझ पाएगा।

क्या है वॉट्सऐप की नई शेयरिंग पॉलिसी? वॉट्सऐप अपने यूजर्स का मोबाइल नंबर अपनी ओनर कंपनी फेसबुक के साथ साझा करेगा, जिसकी मदद से वॉट्सऐप यूजर्स फेसबुक के जरिए और भी ज्यादा टारगेट विज्ञापन पा सकेंगे। ये एड फेसबुक पर होंगे। इस जानकारी में वॉट्सऐप एड की कोई बात नहीं कही गई है।

वॉट्सऐप यूजर्स इन दिनों अपने यूजर्स से पूछ रहा है कि वो वॉट्सऐप की जानकारी फेसबुक के साथ साझा करना चाहते हैं या नहीं। कंपनी ने साफ किया है कि फेसबुक को दिया गया आपका नंबर सुरक्षित रहेगा। वॉट्सऐप ने बताया कि इस शेयरिंग से फेसबुक मैपिंग के जरिए बेहतर फ्रेंड सजेशन और ज्यादा सटीक ए़ड यूजर्स को मुहैया करा सकेगा।