43 साल बाद अमेरिका के हवाई द्वीप में ऐसा भूकंप, हिल गया सबकुछ

होनोलुलु (5 मई): अमेरिका के हवाई द्वीप में 1975 के बाद अबतक का सबसे तेज भूकंप आया है। भूकंप के तीव्रता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि कूछ देर के लिए यहां पूरी धरती हिल गई। लीलानी एस्टेट्स से करीब 16 किलोमीटर की दूरी पर 6.9 तीव्र गति की भूकंप भी मापी गई, जो अब तक वहां आये 110 सबसे तेज भूकंपों में से एक था।  बताया जा रहा है कि ये भूकंप हवाई द्वीप में दुनिया के एक सबसे सक्रिय ज्वालामुखी किलाएवा में ब्‍लास्‍ट होने की वजह से आई। भूकंप के बाद हवाई में इमजरजेंसी घोषित कर दी गई है। पहले ज्‍वालामुखी फटने और फिर भूकंप की वजह से यहां के करीब रिहायशी इलाके में बसे करीब 1,700 लोगों को घरों को छोड़कर जाने को मजबूर होना पड़ा है। अभूकंप के तुरंत बाद हवाई में बिजली सप्‍लाई को रोक दिया गया। भूकंप ने वहां के निवासियों को पूरी तरह से बेघर कर दिया है। इसके अलावा इतना तीव्र भूकंप आने के बाद वहां के हवा में सल्‍फर डाई ऑक्‍साइड का लेवल भी बढ़ गया है।