बच्चों का दाखिला कराना है तो लिख कर दो 'शराब नहीं पियेंगे'

नई दिल्ली (10 मार्च): बिहार के स्कूलों में अब बच्चों को दाखिला तब मिलेगा जब बच्चों के पिता लिख कर देंगे कि वो शराब नहीं पियेंगे। बिहार में देशी शराब पर प्रतिबंध लागू करने के लिए नीतीश सरकार ने ये नया तरीका निकाला है।

नितीश के निर्देश पर  शिक्षा विभाग ने सभी प्राइमरी और सैकेंडरी स्कूलों को आदेशित किया है लगभग  73000 हजारों छात्रों के दाखिले के समय उनके पिता से ये शपथ पत्र लिया जाएगा कि वे शराब का सेवन नहीं करेंगे।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि शराबबंदी को लेकर राज्य सरकार कड़ा कानून बना रही है। इसको लेकर विधानमंडल के इसी सत्र में विधेयक लाया जाएगा। एक अप्रैल से बिहार में पूरी तरह शराब बंदी लागू कर दी जायेगी। नए कानून में नकली शराब बनाने और बेचने के मामले पर मृत्यु दंड तक का प्रावधान किया जायेगा।