CWC19: गेंदबाज जिन्होंने विश्व कप में लिए हैट्रिक विकेट, भारत के चेतन शर्मा हैं पहले हैट्रिक मैन

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (3 जून): इंग्लैंड और वेल्स में वर्ल्ड कप का बिगुल बज गया हैं। टीम इंडिया भी 5 जून को साउथ अफ्रीका के खिलाफ अपने अभियान की शुरूआत करेगी। हमेशा से विश्वकप में गेंदबाजों ने अपना जलवा बिखेरा है। इस विश्वकप में भी गेंदबाजों ने कई मैचों में महत्वपूर्ण विकेट लेकर टीम को जीत दिलाई हैं। ऐसे में आज हम आपको बताएंगे कि विश्व कप में कौन-कौन से गेंदबाज हैं जिन्होंने हैट्रिक विकेट ली हैं।

चेतन शर्मा

विश्व कप में सबसे पहली हैट्रिक भारत के तेज गेंदबाज चेतन शर्मा के नाम है। शर्मा ने यह हैट्रिक 1987 में विश्व कप के चौथे सीजन में न्यूजीलैंड के खिलाफ ली थी। इस मैच में शर्मा ने केन रदरफोर्ड, इयान स्मिथ और एवेन चैटफील्ड को लगातार तीन गेंदो में आउट किया था। आपको बता दें कि इस मैच में भारतीय टीम ने 9 विकेट से मुकाबला जीता था।

सकलैन मुश्ताक

वर्ल्ड कप में दूसरी हैट्रीक 1999 में पाकिस्तान के फिरकी गेंदबाज सकलैन मुश्ताक ने अपने नाम की। उन्होंने सबसे पहले हेनरी ओलोंगा को स्टंप आउट करवाया, उसके बाद एडम हकल और फिर पमेलेलो बंगवा को आउट कर अपनी हैट्रिक पूरी की।

चमिंदा वास

2003 विश्वकप में चमिंदा वास ने बांग्लादेश के खिलाफ मैच में पहले ओवर की पहली ही तीन गेंदों पर हैट्रिक ली। इसके साथ ही वो वन-डे इतिहास में पहली तीन गेंदों पर हैट्रिक लेने वाले पहले खिलाड़ी बन गए। आपको बता दें कि इस मैच में श्रीलंका ने 10 विकेट से जीत दर्ज की थी।

ब्रेट ली

साल 2003 में ही ऑस्ट्रलियाई गेंदबाज ब्रेट ली ने भी हैट्रिक अपने नाम की। बता दें कि ली ने केन्या के खिलाफ चौथे ओवर में केनेडी ओटिएनो, उसके बाद ब्रिजल पटेल और फिर डेविड ओबुया को आउट किया था।

लसिथ मलिंगा

मलिंगा एकलौते ऐसे गेंदबाज हैं जिन्होंने विश्व कप में दो बार हैट्रिक ली है। साल 2007 में इन्होंने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ अपनी पहली वर्ल्ड कप हैट्रिक ली थी। मलिंगा ने इस मैच में सिर्फ हैट्रिक नहीं बल्कि लगातार चार गेंदों में चार विकेट झटके थे। हालांकि उनके धारदार गेंदबाजी के बावजूद भी श्रीलंका को इस मैच में हार का सामना करना पड़ा था।

साल 2011 में एक बार फिर से मलिंगा ने हैट्रिक अपने नाम किया। केन्या के खिलाफ हैट्रिक लेते ही वो वर्ल्ड कप इतिहास में दो बार हैट्रिक लेने वाले पहले खिलाड़ी बन गए ।

केमार रोच

साल 2011 में केमार रोच ने नीदरलैंड्स की टीम के खिलाफ हैट्रिक विकेट ली थी। इसके साथ ही वह वर्ल्ड कप में हैट्रीक लेने वाले वेस्टइंडीज के पहले गेंदबाज बन गए।

स्टीवन फिन

2015 वर्ल्ड कप में इंग्लैंड के गेंदबाज स्टीवन फिन ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हैट्रिक ली थी। इसके साथ ही वह वर्ल्डकप इतिहास में हैट्रिक लेने वाले पहले अंग्रेज खिलाड़ी बने।

जे पी डुमिनी

वर्ल्ड कप इतिहास की 9वीं हैट्रिक साल 2015 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाड़ी डुमिनी ने अपने नाम की थी। डुमिनी ने यह हैट्रिक क्वार्टरफाइनल मुकाबले में श्रीलंका के खिलाफ ली थी। इस दौरान उन्होंने एंजेलो मैथ्यूज, नुवान कुलसेकरा और फिर थारिंदु कौशल को अपना शिकार बनाया।