इस शख्स ने ऐसे खोला मंडी के काले कारनामे की पोल, 25रू किलो बेचा टमाटर


नई दिल्ली(8 जुलाई):  लोगों की जेब पर भारी पड रहा टमाटर हरियाणा के यमुनानगर की नई अनाज मंडी में महज 25 रू किलो बिक गया। इस टमाटर को बेचने वाला कोई सब्जी व्यपारी नहीं बल्कि एक ऐसा व्यक्ति है कि जिसने कभी एक किलो टमाटर भी रेहडी से नहीं खरीदे और ऐसे में उसने मंडी की पोल खोलने के लिए यह टमाटर यहीं से खरीदकर उसे मुनाफे में बेचा है, जबकि इन दिनों यह टमाटर लोग 70 से 80 रू किलो खरीद रहे थे।


- बेचने वाला शख्स सब्जी बेचने का कारोबार नहीं करता बल्कि यह एक फैक्टरी संचालक है और पिछले कई दिनों से टमाटर से हाय तौबा कर रहे लोगों को निजात दिलाने के लिए यह मंडी में उतर कर टमाटर बेचने का काम कर रहा है। इसकी मानें तो इसने टमाटर के बढते रेट को देखते हुए हिमाचल के सोलन और देहरादून तक का दौरा किया और पता किया कि टामटर वहां पर महज 12 रू किलो है और ऐसे में यह टमाटर यहा पहुंचकर कैसे 70 से 80 रू किलो बिक रहा।


- जब वह इस मामले की गहराई तक पहुंचे तो पता चला कि टमाटर कोई इतना मंहगा नहीं बल्कि मंडी से ही टमाटर की गडबड़ होती है और मंडी के व्यापारी, फेरी वाले मिलकर टामटर के रेट को बढा रहे हैं। ऐसे में परमजीत सिंह ने टमाटर को इसी मंडी से खरीदा और बाद में यही रेहडी लगाकर उसे 25 रू किलो बेच डाला। मंडी में सुबह टमाटर लेने वाले लोग महज 250 ग्राम टमाटर ही खरीद रहे थे क्योंकि टमाटर का भाव आसमान छू रहा था लेकिन जैसे ही टमाटर की आवाज 25 रू किलो आई तो लोग भी इस रेहडी पर पहुंच गए और टमाटर की जमकर खरीदारी की। लोग भी इस टमाटर को खरीदकर खुश नजर आ रहे थे और देखते ही देखते तीन क्विंटल टमाटर हाथों हाथ बिक गया।