हरियाणा सरकार जानना चाहती है अफसरों के पास कितने घोड़े हैं!

 

नई दिल्ली (12 जनवरी) : हरियाणा सरकार का एक आदेश सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय बना हुआ है। दरअसल 8 दिसंबर को राज्य सरकार ने गजेटेड ऑफिसर्स से प्रापर्टीज़, सिक्योरिटीज़, कैश, जूलरी और अन्य कीमती वस्तुओं के बारे में 31 दिसंबर तक सारी जानकारी देने के लिए कहा। लेकिन इस आदेश में कुछ ऐसी बातें हैं जिन पर अधिकारी भी चटखारे ले रहे हैं।

दरअसल, हरियाणा सरकार ने आदेश में पूछा है कि अधिकारी बताएं कि परिवहन के तौर पर उन्होंने कितने घोड़े रखे हैं। टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक एक अधिकारी ने सरकार के आदेश को लेकर व्यंग्यात्मक लहजे में कहा, 'आखिरी बार मैं शादी के मौके पर घोड़े पर चढ़ा था और वह भी बहुत थोड़ी देर के लिए।'

सभी अधिकारियों को इलैक्ट्रॉनिक्स गुड्स की जानकारी देने को भी कहा गया है। इसके तहत सरकार यह भी जानना चाहती है कि अधिकारियों के पास कितने रेडियोग्राम मौजूद हैं, इसके बारे में जानना चाहती है। 

बता दें कि रेडियोग्राम 4-5 दशक पहले प्रचलन थे। इनमें रेकॉर्ड प्लेयर और रेडियो दोनों की सुविधा होती थी। उस वक्त रेडियोग्राम का घर में होना स्टेट्स सिंबल माना जाता था। रिटायर्ड ब्यूरोक्रेट आरएस चौधरी ने कहा कि ऐसा इसलिए हुआ होगा क्योंकि आदेश जारी करने से पहले किसी अफसर ने उसमें संशोधन करने के बारे में विचार नहीं किया होगा। ऐसी पूछताछ ब्रिटिश राज के दौरान होती थी।