बत्ती गुल होने पर हरियाणा के मंत्री को आया गुस्सा, बिजली अधिकारी को किया तलब

जींद (9 जुलाई): हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज एक मीटिंग के दौरान बत्ती गुल होने से आग बबूला हो गए। इस दौरान उन्होंने बिजली विभाग के एक्सईएन को जमकर खरी-खोटी सुनाई। सबके सामने उन्होंने एक्सईएन को लताड़ लगाई और ड्यूटी में लापरवाही का हवाला देकर सस्पेंड कर दिया।

हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज उस वक्त बिजली विभाग के अधिकारी पर भड़क उठे। जब जींद में एक मीटिंग के दौरान बार-बार बत्ती गुल होती रही। कभी लाइट आती तो कभी चली जाती। बस बिजली की इस आंख-मिचौली ने मंत्री जी का पारा सातवें आसमान पर पहुंचा दिया।

बस फिर क्या था। बार-बार बिजली के जाने से वो अपना आपा खो बैठे और बिजली विभाग के एक्सईएन को सबके सामने तलब कर लिया। फिर मंत्री जी बोलते रहे और अधिकारी डरे-सहमे उन्हें सुनते रहे। अनिल विज ने जब बिजली जाने का कारण पूछा तो अधिकारी की सिट्टी-पिट्टी गुल हो गई और वो अपनी दलील देने लगे, लेकिन मंत्री जी को उनकी दलील रास नहीं आई और उन्होंने जमकर खरी-खोटी सुना दी।

जब एक्सईएन साहब कोई उचित जवाब नहीं दे पाए तो मंत्री जी ने उनके खिलाफ एक्शन लेने की बात कही। हालांकि मीटिंग में मौजूद डीसी ने अफसर का बचाव करने की कोशिश की, लेकिन इस पर अनिल विज ने कहा कि मैंने कोई माफ करने की खान नहीं खोल रखी है।

आखिर में मंत्री जी जब अधिकारी के किसी जवाब से संतुष्ट नहीं हुए तो उन्होंने एक्सईएन को सस्पेंड करने का फरमान सुना दिया। जब इस बाबत एक्सईएन से मीडिया ने सवाल करना चाहा तो वो जवाब देने से बचते नजर आए।

ये पूरा वाकया जींद में बुलाई गई परिवेदना समिति की मीटिंग में हुआ। इसमें डीसी, एसपी समेत, कई विधायक और आलाधिकारी शामिल हुए। फिलहाल कुछ लोग जहां इसे मंत्री जी का अनुशासन मान रहे हैं। तो वहीं कुछ लोग इसे दादागारी करार दे रहे हैं।