हरियाणा में 12 साल तक की बच्ची से रेप पर फांसी

नई दिल्ली ( 21 जनवरी ): हरियाणा के कई शहरों में पिछले एक हफ्ते में एक के बाद एक रेप की घटनाएं सामने आईं। इन घटनाओं की वजह से चौतरफा आलोचना झेल रही खट्टर सरकार कड़ा कदम उठाने की तैयारी कर रही है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा है कि राज्य में ऐसा कानून बनाया जाएगा, जिसमें 12 वर्ष या इससे कम उम्र की बच्चियों के बलात्कार के दोषियों के लिए मृत्युदंड की सजा का प्रावधान होगा।

इसके अलावा, राज्य सरकार पीड़ितों के लिए जल्द इंसाफ सुनिश्चित करने और बलात्कार के मामलों से निपटने के लिए फास्ट ट्रैक कोर्ट गठन करने पर भी विचार कर रही है। राज्य में बलात्कार की हाल की घटनाओं को लेकर दुख और चिंता व्यक्त करते हुए खट्टर ने कहा कि कानून के तहत ही पुलिस इस तरह के मामलों से निपट रही है। 

सीएम ने कहा कि हमने 'बलात्कार के लिए कठोर सजा' के प्रावधान लाने का निर्णय लिया है। 12 वर्ष या इससे कम उम्र की बच्चियों के साथ बलात्कार के दोषियों को फांसी पर लटकाये जाने का कानून बनाया जायेगा। सीएम ने राज्य के लोगों को आश्वासन दिया कि पुलिस राज्य में हाल में सामने आए बलात्कार के मामलों को सुलझाने के लिए पूरी सक्रियता के साथ काम कर रही है। 

गौरतलब है कि हरियाणा से पहले भी मध्य प्रदेश में बच्चियों से रेप के दोषियों को फांसी की सजा के प्रस्ताव पर शिवराज कैबिनेट ने मुहर लगाई थी। इसके साथ ही कैबिनेट ने गैंगरेप के मामले में दोषियों को मौत की सजा देने के लिए एक प्रस्ताव भी पास किया था।