हरियाणा सरकार का फरमान, कमाई का 33% हिस्सा सरकारी खजाने में दें खिलाड़ी

न्यूज24 ब्यूरो, नई दिल्ली ( 8 जून ): हरियाणा की मनोहर लाल खट्टर सरकार ने राज्य के खिलाड़ियों को एक नया फरमान जारी किया है। राज्य सरकार ने सभी खिलाड़ियों से पेशेवर समारोह से मिलने वाली पुरस्कार राशि और विज्ञापनों से मिलने वाले पैसों का एक-तिहाई हिस्सा देने को कहा है। सरकार द्वारा जारी 30 अप्रैल की अधिसूचना में कहा गया है कि खिलाड़ियों से लिया गया यह एक-तिहाई धन हरियाणा में खेल के और उभरती प्रतिभाओं के विकास में इस्तेमाल किया जाएगा।अधिसूचना में कहा गया, 'खिलाड़ी उनके पेशेवर समारोहों और विज्ञापनों से करार से मिलने वाले धन का एक-तिहाई हिस्सा हरियाणा राज्य खेल परिषद को देंगे और यह धन राज्य में खेल के और उभरती प्रतिभाओं के विकास में इस्तेमाल किया जाएगा।'इस फरमान के साथ ही सरकार ने कहा है कि जिन खिलाड़ियों को राज्य सरकार ने नौकरी दी है उनके द्वारा अगर छुट्टी ली गई तो उनका वेतन भी कटेगा। साथ ही अगर कोई खिलाड़ी बिना सरकार की अनुमति के किसी कंपनी का विज्ञापन करता है या फिर प्रोफेशनल स्पोर्ट्स में हिस्सा लेता है तो उससे होने वाली सारी आमदनी सरकारी खाते में ही जमा करवानी होगी।

सरकार के इस आदेश पर भारतीय कुश्ती खिलाड़ी गीता फोगाट ने सरकार से नाराजगी जताई है। उन्होंने कहा है,' क्या सरकार जानती भी है कि खिलाड़ियों को किस तकलीफ का सामना करना पड़ता है। वह खिलाड़ियों के आय का एक तिहाई कैसे मांग सकते हैं। मैं इसका समर्थन नहीं करती। सरकार को कम से कम हमसे बात करनी चाहिए थी।'