... जब ओलंपिक सिल्वर मेडलिस्ट का नाम भूले खट्टर, 'सिंधू' को 'कर्नाटक' का बताया

नई दिल्ली (25 अगस्त): हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर बुधवार को रियो ओलिंपिक की सिल्‍वर मेडलिस्‍ट पीवी सिंधु का पूरा नाम भूल गए। गलती से वह उन्हें 'कर्नाटक की' कह गए।

- रिपोर्ट के मुताबिक, खट्टर ने कहा, "यह हमारे लिये गौरव का क्षण है क्योंकि हमारी दो बेटियों ने रक्षाबंधन के पर्व पर दो मेडल जीते।" - उन्होंने हरियाणा की साक्षी मलिक का नाम तो ठीक लिया। लेकिन सिंधु का नाम भूल गए और दूसरों से पूछने लगे कि उसका नाम क्या है?  - इसके बाद वह बोल गए- "कर्नाटक की पीवी सिंधु", जबकि, पीबी सिंधू हैदराबाद की हैं। - खट्टर हरियाणा सरकार की तरफ से ओलंपिक में कांस्य पदक विजेता साक्षी मलिक के स्वागत सम्मान समारोह के दौरान भाषण दे रहे थे। - साक्षी रियो डि जेनेरो से आज सुबह रोहतक के निकट बहादुरगढ़ पहुंचीं और यहीं पर यह कार्यक्रम आयोजित किया गया। - खट्टर सरकार ने हैदराबाद की बैडमिंटन खिलाड़ी सिंधु के लिये भी 50 लाख रुपए के नकद पुरस्कार की घोषणा की। - सम्मान समारोह में साक्षी को मुख्यमंत्री ने 2.5 करोड़ रुपए का चेक प्रदान किया। - मुख्यमंत्री ने इस 23 वर्षीय पहलवान के दोनों कोचों के लिये भी 10-10 लाख रुपए के नकद पुरस्कार की घोषणा की। - इसके अलावा साक्षी के गांव के लिये खेल नर्सरी और स्टेडियम की भी घोषणा की। - गौरतलब है, साक्षी को नरेंद्र मोदी सरकार के ‘बेटी पढ़ाओ-बेटी बचाओ’ कार्यक्रम के लिये हरियाणा का ब्रांड एम्बेसडर भी नियुक्त किया था।