हार्दिक पटेल को मिली जमानत, 'जेल से बाहर आकर UP का करेंगे रुख'

नई दिल्ली (11 जुलाई): हार्दिक पटेल को गुजरात हाईकोर्ट ने विसनगर दंगा मामले में सोमवार को जमानत दे दी। लेकिन 9 महीने तक मेहसाणा में घुसने की इजाजत देने से इनकार कर दिया। 

गौरतलब है, पिछले साल अक्टूबर में पटेल आरक्षण आंदोलन के दौरान हुई हिंसा और हार्दिक के बयानों के बाद उनपर और 5 साथियों सहित देशद्रोह का केस दर्ज किया गया था। हार्दिक के पांच साथियों को पहले ही जमानत मिल चुकी थी। हाईकोर्ट के इस फैसले के बाद हार्दिक के जेल से बाहर आने का रास्ता साफ हो गया है। हार्दिक 9 महीने से सूरत की जेल में बंद हैं। इससे पहले हाईकोर्ट ने बीते शुक्रवार को उन्हें देशद्रोह के मामले में जमानत दी थी। लेकिन राजकोट, अहमदाबाद और मेहसाणा में कई केस दर्ज होने के चलते उनकी रिहाई नहीं हो सकी थी।

मीडिया में आई रिपोर्ट के मुताबिक, जेल से बाहर आने के बाद हार्दिक 6 महीनों के लिए अपना बेस उत्तरप्रदेश शिफ्ट कर सकते हैं। ऐसा बताया जा रहा है कि वह वहां कुर्मी समुदाय का समर्थन हासिल करने की कोशिश करेंगे। बीते शुक्रवार को हार्दिक पटेल को देशद्रोह के मामले में 9 महीने बाद बेल मिली थी। हालांकि हाईकोर्ट ने उन्हें 6 महीने तक गुजरात से बाहर रहने का भी आदेश दिया था।