भज्जी को मिला पाकिस्तानी दिग्गज क्रिकेटर का साथ, कहा...

नई दिल्ली(26 फरवरी) पाकिस्तानी क्रिकेट टीम के पूर्व स्टार ऑफ स्पिनरस कलैन मुश्ताक मानते हैं कि भारतीय चयनकर्ताओं ने हरभजन सिंह के पहले के प्रदर्शन को नजरअंदाज किया है। बता दें हरभजन सिंह प्लेइंग XI से काफी समय से बाहर रह रहे हैं। भज्जी ने (103 टेस्ट में 417 विकेट, 236 वनडे में 269 विकेट और 27 टी-20 में 24 विकेट)लिए हैं। 

भज्जी एशिया कप और वर्ल्ड टी-20 में टीम इंडिया का हिस्सा तो हैं, लेकिन प्लेइंग XI में उनकी जगह बनती नहीं नजर आती है। खासकर आर अश्विन का फॉर्म में होना भज्जी के टीम से बाहर रहने के हालात तैयार कर देता है। सकलैन के मुताबिक चयनकर्ताओं ने उन पर दबाव बना दिया है। 'दूसरा' का ईजाद करने वाले सकलैन मानते हैं कि आर अश्विन एक वर्ल्ड क्लास गेंदबाज हैं, लेकिन पिछले सात अंतरराष्ट्रीय टी-20 मैचों में हरभजन जगह नहीं बना पाए हैं, सकलैन इससे खफ़ा नज़र आते हैं।

सकलैन कहते हैं कि अश्विन की वजह से भज्जी को सभी मैचों से बाहर रखकर उनपर दबाव बना दिया गया है। उनके मुताबिक भज्जी अभी भी एक वर्ल्ड क्लास गेंदबाज हैं। उनका कहना है कि भज्जी को मैच में नहीं उतारकर उनके आत्मविश्वास के साथ अच्छा नहीं किया जा रहा।

सकलैन के मुताबिक भज्जी को थोड़े मौके देकर वर्ल्ड टी-20 तक के लिए उनके हौसले को बरकरार रखा जा सकता है। वर्ल्ड कप विजेता कप्तान एमएस धोनी ने एशिया कप के दौरान प्रयोग किए जाने और खिलाड़ियों को मौके दिए जाने की बात तो कही है, लेकिन भज्जी भी उनकी स्कीम में फिट बैठते हैं या नहीं इसका जवाब सिर्फ़ माही के पास ही है।