हाफ इंडियन प्रियंका योशीकावा, पहली अश्वेत मिस जापान बनी

नई दिल्ली (6 सितंबर): भारतीय मूल की  और हाथियों को प्रशिक्षण देने का लाइसेंस रखने वाली एक युवती को सोमवार को मिस जापान का ताज पहनाया गया। इससे नस्ली समानता की एक नई बहस छिड़ गई है।

अरियाना मियामोतो के जापान का प्रतिनिधित्व करने वाली प्रथम अश्वेत महिला बनने और आलोचनाओं का सामना करने के साल भर बाद प्रियंका योशीकावा को यह ताजा पहनाया गया है। ताजा घटनाक्रम के बाद सोशल मीडिया पर यह ट्रेंड करने लगा कि मिस यूनीवर्स जापान को पूरी तरह से जापानी होना चाहिए न कि ‘आधा’। इस शब्द का इस्तेमल मिश्रित नस्ल को लेकर किया जाता है।