उत्तराखंड में गाड़ी चलाते हुए फोन पर बात करने वाले की शामत

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (10 जुलाई): सड़क हादसे पर रोक लगाने के लिए उत्तराखंड हाईकोर्ट के आदेश का असर होता दिख रहा है। उत्तराखंड परिवहन विभाग ने हाईकोर्ट के आदेश के महज 24 घंटे के भीतर इस कानून के तहर हलद्वानी के एक शख्स को गाड़ी चलाते हुए फोन पर बात करते हुए पकड़ा है। पुलिस ने हलद्वानी के गौरव पंवाली का फोन जब्त कर लिया है और अब उसके ड्राइविंग लाइसेंस को कैंसिल करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है।  

आपको बता दें कि पिछले महीने हाई कोर्ट ने गाड़ी चलाते समय मोबाइल फोन का इस्तेमाल करने पर ड्राइविंग लाइसेंस तुरंत रद्द करने का निर्देश दिया था। उसके बाद कोर्ट ने पिछले शुक्रवार को अपने एक आदेश में हाई कोर्ट ने गाड़ी चलाते समय बात करने पर वैध रसीद के साथ अस्थाई तौर पर 24 घंटे के लिए मोबाइल फोन जब्त करने का निर्देश दिया। हाई कोर्ट ने इसके लिए परिवहन विभाग को अधिकृत किया है।  पिछले महीने अपने आदेश में हाई कोर्ट ने ऐसा करने पर ड्राइविंग लाइसेंस रद्द करने के आदेश के साथ ही कहा था कि जब तक लाइसेंस निरस्तीकरण की व्यवस्था लागू नहीं होती, उल्लंघन करनेवालों से पांच हजार रुपए जुर्माना भी वसूला जाए।जस्टिस राजीव शर्मा की एकल पीठ ने शुक्रवार को परिवहन विभाग को यह निर्देश जारी किए। इसके साथ ही पीठ ने सड़क सुरक्षा से जुड़े मुद्दे पर कई अहम निर्देश भी दिए। इस दौरान पीठ ने हाल ही में पौड़ी गढ़वाल के धूमाकोट में हुए भीषण बस हादसे का संज्ञान लेते हुए एक माह के भीतर प्रदेश की सभी सड़कों का रोड सेफ्टी ऑडिट कराने और इसके बाद ऑडिट के आधार पर सुधार करने का निर्देश भी जारी किया।