विदेश कंपनियों को पछाड़ यह देसी कंपनी बनी नंबर 1

नई दिल्ली ( 20 फरवरी ): यह देसी कंपनी विदेश कंपनियों को पीछे छोड़ते हुए अब नंबर 1 बन गई है। स्नैक्स बनाने वाली भारतीय कंपनी हल्दीराम की कमाई वित्त वर्ष 2016 में 13 प्रतिशत की बढ़ोतरी के साथ 4000 करोड़ रुपये का स्तर पार कर गई है। इस हिसाब से इसका रेवेन्यू हिंदुस्तान यूनिलीवर के पैकेज्ड फूड डिवीजन और नेस्ले मैगी का दोगुना और दिग्गज अमेरिकी फास्ट फूड चेन डॉमिनोज और मैकडॉनल्ड के टोटल इंडियन बिजनस के रेवेन्यू के बराबर है।

भारत में हल्दीराम तीन अलग-अलग बिजनेस में है। कंपनी रिसर्च प्लैटफॉर्म टॉफलर के डेटा के अनुसार, हल्दीराम स्नैक्स ऐंड एथनिक फूड्स का उत्तरी भारत में रेवेन्यू 2136 करोड़ रुपए रहा। इसके अलावा पश्चिमी और दक्षिण के बाजारों में सप्लाइ करने वाली हल्दीराम फूड्स इंटरनैशनल की सालाना बिक्री 1613 करोड़ रुपए रही। इसी तरह, पूर्वी मार्केट में फोकस करने वाली बहुत ही छोटे साइज वाली कंपनी हल्दीराम भुजियावाला का रेवेन्यू 2016 में 298 करोड़ था।

पिछले वित्त वर्ष में इन कंपनियों की ग्रोथ 13% रही जबकि मैगी क्राइसिस के चलते फूड रेग्युलेटर की बढ़ी निगरानी के चलते ज्यादातर फूड कंपनियों को बड़ी परेशानी हो रही थी। इन आंकड़ों को दूसरी रीजनल स्नैक्स फर्मों के परफॉर्मेंस से जोड़कर देखा जाए तो इससे एक चीज साफ हो जाती है कि चाहे वह फास्ट फूड हो चना-चबेना, दोनों ही कैटिगरी में एमएनसी ब्रैंड्स की भरमार के बावजूद बाजार पर परंपरागत भारतीय स्नैक्स का दबदबा है।

कंपनी शुरू करने वाले हल्दीराम परिवार की चौथी पीढ़ी के सदस्य 43 साल के कमल अग्रवाल कहते हैं, 'हमने अपनी पहुंच बढ़ा दी है और क्वॉलिटी कंट्रोल के लिए इन-हाउस प्रोडक्ट्स विकसित किए हैं। हमें भारतीयों के टेस्ट के बारे में अच्छी तरह पता है। इससे हमें नए प्रोडक्ट्स लॉन्च करने में बहुत मदद मिलती है।'

एक्सपर्ट्स के अनुसार, हल्दीराम ब्रैंड की रिटेल सेल्स 5000 करोड़ से ज्यादा हो सकती है। 1937 में बीकानेर में अग्रवाल परिवार का एक छोटी सी दुकान से शुरू हुआ बिजनेस ब्रांड बनने के दौरान विवादों में घिरा, उबरा और बढ़ा। हल्दीराम अग्रवाल परिवार का लॉन्च किया गया यह ब्रांड पारले के बाद दूसरा सबसे बड़ा इंडियन ब्रैंड है।

ब्रैंड ने रेस्तरां और कैजुअल डाइनिंग से शुरुआत की थी। अब कंपनी के रेवन्यू में 80% से ज्यादा योगदान पैकेज्ड प्रॉडक्ट्स का है। ट्रेडिशनल स्नैक्स मार्केट में मार्केट लीडर हल्दीराम पांच रीजनल कॉम्पिटिटर्स-बालाजी वेफर्स, प्रताप स्नैक्स, बीकानेरवाला, बीकाजी फूड्स और डीएफएम फूड्स से भी बड़ी है।