हाजी अली दरगाह में महिलाओं को मिली प्रवेश की इजाजत

नई दिल्ली (26 अगस्त): हाजी अली दरगाह में महिलाओं को प्रवेश की इजाजत मिल गई है। बॉम्बे हाईकोर्ट ने अपने फैसले में कहा है कि महिलाओं को हाजी अली दरगाह में प्रवेश मिलनी चाहिए। साथ ही कोर्ट ने सरकार से कहा कि दरगाह में महिलाओं के प्रवेश में कोई बाधा आ रही हो तो उसे दूर किया जाए। 

बाम्बे हाई कोर्ट के फैसले के बाद अब महिलाएं हाजी अली दरगाह में मजार के अंदर तक जा सकेंगी। पहले महिलाएं सिर्फ बाहर तक ही जा पाती थीं। अंदर जाने की अनुमति उन्हें नहीं थी। इसके ख़िलाफ़ मुस्लिम महिला आंदोलन नाम की संस्था ने बाम्बे हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर की थी। याचिका में कहा गया था कि जब मर्द अंदर जा सकते हैं तो औरतें क्यों नहीं।

जून 2011 में महिलाओं के मजार तक प्रवेश की इजाजत थी। लेकिन अचानक से पाबंदी लगा दी गई। 2014 में भारतीय मुस्लिम महिला आंदोलन ने जनहित याचिका दायर कर इजाजत देने की मांग की। जिस पर सुनवाई जून में ही पूरी हो चुकी थी। हाजी अली दरगाह ट्रस्ट ने 8 हफ्ते तक का समय कोर्ट से मांगा था ताकि सुप्रीम कोर्ट में अपील हो सके। ट्रस्ट की मांग पर बॉम्बे हाई कोर्ट ने 6 हफ्ते तक का समय हाजी अली ट्रस्ट को दिया था तब तक महिलाएं अंदर नहीं जा सकती। अब समय पूरा होने के बाद कोर्ट ने महिलाओं के पक्ष में अपना फैसला सुनाते हुए प्रवेश की इजाजत दे दी है।