23 साल बाद हज यात्रा के लिए शुरू हो सकता है समुद्री मार्ग

नई दिल्ली ( 5 मार्च ): मबंई बंदरगाह से एक बार फिर हज यात्रा शुरू हो सकता है। अगर ऐसा होता है, तो ढाई दशक बाद मुंबई बंदरगाह फिर से हज यात्रियों से गुलजार होगा। सरकार की तरफ से गठित एक समिति हज के लिए समुद्री मार्ग का सफर फिर शुरू करने पर विचार कर रही है।


सरकार की तरफ से हज नीति-2018 तय करने के लिए गठित उच्च स्तरीय समिति हज यात्रियों को समुद्री मार्ग से सउदी अरब के जेद्दा शहर भेजने के विकल्प पर गौर कर रही है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय के एक सूत्र ने बताया कि हजयात्रियों के मुंबई से समुद्री मार्ग के जरिए जेद्दा जाने का सिलसिला 1995 में रूक गया था, क्योंकि जहाज एमवी अकबरी काफी पुराना हो गया था।


अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने से कहा, समिति समुद्री मार्ग सहित सभी विकल्पों पर गौर रही है। अगर चीजें तय हो जाती हैं तो फिर यह एक क्रांतिकारी और हजयात्रियों के हित में फैसला होगा।


समिति की तरफ से मुंबई के अलावा कोलकाता और कोच्चि बंदरगाहों से भी हजयात्रियों के जाने के विकल्प पर विचार हो रहा है।


नकवी ने कहा कि उनका मंत्रालय बंदरगाहों की उपलब्धता के बारे में पोत परिवहन मंत्रालय के साथ बातचीत करेगा।