जर्मनी से सकुशल भारत लौटी गुरप्रीत और उसकी बेटी

नई दिल्ली (4 फरवरी): हरियाणा के फरीदाबाद की रहने वाली भारतीय महिला गुरप्रीत और उसकी आठ साल की बेटी जर्मनी से सकुशल भारत वापस आ गई हैं। भारत आते ही उसने सबसे पहले भारत सरकार को धन्‍यवाद कहा।

आपको बता दें कि गुरप्रीत और उनकी बेटी को ससुराल वालों ने जर्मनी के एक शरणार्थी शिविर में रखवा दिया था। जिसके बाद उसका एक वीडियो सामने आने के बाद विदेश मंत्री सुषमा स्‍वराज ने मदद का भरोसा देते हुए इस मामले में तुरंत कार्रवाई करने का निर्देश दिया था। सुषमा स्वराज ने ट्विटर पर जानकारी देते हुए कहा था कि दोनों मां-बेटी हिंदुस्तान आ जाएंगे। सुषमा ने ट्विटर पर लिखा, 'हम गुरप्रीत और उनकी आठ साल की बेटी को गत बुधवार को रिफ्यूजी कैंप से बाहर अपने दूतावास ले आए हैं।'

सुषमा स्वराज ने इसके साथ ही एक भारतीय दूतावास में दोनों मां-बेटी की तस्वीर भी साझा की थी। गौरतलब है कि मंगलवार को गुरप्रीत ने ट्विटर पर एक छोटा वीडियो अपलोड किया था, जिसमें विदेश मंत्री से मदद की गुहार लगाई थी। सुषमा स्वराज ने वीडियो पर तत्काल मदद का भरोसा दिया था। गुरप्रीत ने वीडियो में आरोप लगाया है कि उन्हें और उनकी आठ साल की बेटी को उनके ससुराल वालों ने एक शरणार्थी शिविर में रखवा दिया था। गुरप्रीत हरियाणा के फरीदाबाद की रहने वाली है।