गुड़गांव में दिनदहाड़े लूट, गार्ड को चाकू मार उड़ाया 33 किलो सोना

गुड़गांव(10 फरवरी): बदमाशों ने सिविल लाइन एरिया में स्थित मणप्पुरम गोल्ड के दफ्तर पर धावा बोल 33 किलो से अधिक गोल्ड व 7 लाख 80 हजार कैश लूट लिया। कस्टमर बनकर आए बदमाशों ने दफ्तर में घुसते ही सबसे पहले एक गार्ड को काबूकर उसे चाकू मारा, इसके बाद मैनेजर समेत स्टाफ को गनपॉइंट पर ले लिया। पहचान छिपाने के लिए बदमाशों ने वारदात से पहले सीसीटीवी कैमरों पर कुछ स्प्रे किया। उन्होंने गार्ड की बंदूक तोड़कर फेंक दी।

- सीसीटीवी में तीन बदमाशों के चेहरे आ गए हैं। पुलिस उनकी पहचान में जुटी है।

- पुलिस के मुताबिक गुरुवार को करीब 12:15 बजे 7 से 8 युवक कस्टमर बनकर मणप्पुरम गोल्ड के दफ्तर पहुंचे। सबसे पहले चार युवक आए। गार्ड मुकेश गुर्जर के टोकने पर एक युवक ने रजिस्टर में एंट्री की। इसके बाद वह अंदर चला गया। उसके साथ जब तीन युवक अंदर जाने लगे तो गार्ड ने एंट्री करने को कहा, तो उन्होंने मना कर दिया।

- एक बदमाश ने मुंह पर कपड़ा बांधा था, दो ने चश्मा पहना था। सभी की उम्र 25 से 27 के बीच थी। एक युवक ने गार्ड को धक्का दिया और उसके पेट में चाकू से चार वार कर दिए। उसकी बंदूक को कंधे से उतारकर फेंक दिया। इसे देखकर मैनेजर सहित पांच लोगों का स्टाफ जब बाहर आने लगा तो युवकों ने अंदर घुसकर उन्हें गनपॉइंट पर ले लिया।

- घटना के वक्त दफ्तर में एक बुजुर्ग समेत दो कस्टमर थे। एक युवक के पास चाकू और दो के पास पिस्तौल थी। इसी दौरान एक युवक मैनेजर को स्ट्रॉन्ग रूम लेकर गया। उसने काले रंग के दो बैग में 33 किलो से अधिक गोल्ड व 7 लाख 80 हजार कैश भर लिया। इसके बाद बदमाश गार्ड सहित सभी लोगों को अंदर बंद कर दिया। आरोपी आराम से पहली मंजिल से नीचे उतरे और साथियों के साथ फरार हो गए। किसी को नहीं पता चला कि इतनी बड़ी वारदात हो गई। जांच में पता चला कि एक बदमाश सीढ़ियों पर खड़ा था जबकि दो से तीन नीचे खड़े थे।

- बदमाशों के जाने के बाद मणप्पुरम के किसी स्टाफ ने कॉल करके दरवाजा खुलवाया। मैनेजर ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस कमिश्नर, जॉइंट पुलिस कमिश्नर, डीसीपी क्राइम सहित क्राइम ब्रांचों के अधिकारी मौके पर पहुंचे। फॉरेसिंक टीम ने मौके पर पहुंचकर नमूने लिए। पुलिस अधिकारियों ने मैनेजर, कर्मचारी व गार्ड से बातचीत की। घायल गार्ड राजस्थान निवासी मुकेश गुर्जर को सिविल हॉस्पिल से सिविल लाइन के एक प्राइवेट हॉस्पिटल में रेफर किया गया। उसकी हालत खतरे से बाहर है। एक अन्य गार्ड के हाथों पर भी चोट आई है। पुलिस कमिश्नर संदीप खिरवार ने बताया कि बदमाशों की तादाद 7 से 8 बताई जा रही है। पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है। गोल्ड व कैश कितना लेकर गए हैं, इसकी डिटेल ली जा रही है।

-क्राइम ब्रांच की टीम ने ब्रांच के रोड की ओर लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली। उसमें आरोपी नजर नहीं आ रहे हैं। सीढ़ियों में लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली जा रही है। इस सीसीटीवी पर एक बदमाश ने सफेद रंग का स्प्रे किया। कैश व गोल्ड की सही जानकारी के लिए ब्रांच के हेड ऑफिस केरल के वालापड़ से डिटेल मांगी गई है। पुलिस कमिश्नर संदीप खिरवार ने घायल गार्ड मुकेश व वीरेंद्र का हॉस्पिटल जाकर हाल जाना। साथ ही हर संभव मदद का आश्वासन दिया। पुलिस पूछताछ में यह बात सामने आई कि बदमाशों ने मौजीवाला कुआं निवासी बुजुर्ग कस्टर ईश्वर सिंह को धमकाते हुए उन्हें किनारे बैठा दिया। पुलिस ने स्टाफ हेड कृष्णा कुमार की शिकायत पर केस दर्ज किया। पुलिस सीसीटीवी के अलावा एरिया के मोबाइल टावरों से कॉल डिटेल पता कर रही है। केस में साइबर सेल को भी जोड़ा गया है।

इससे पहले सेक्टर दस ए और न्यू रेलवे रोड पर ही मथूट फाइनैंस में लूट में शामिल बदमाशों की लोके-शन ली जा रही है। इसके अलावा स्टाफ की लोकेशन व मोबाइल नंबरों के आधार पर भी जांच की जा रही है। दूसरी ओर मणप्प्पुरम गोल्ड कंपनी ने अपनी स्टेटमेंट में कहा है कि यह दुर्भाग्यपूर्ण घटना है। उनकी हर ब्रांच में कस्टमर का गोल्ड पूरी तरह सुरक्षित है।