74 साल बाद पाकिस्तान में दोबारा खुला गुरुद्वारा

पेशावर (31 मार्च) :  पाकिस्तान में 74 साल से बंद एक गुरुद्वारे को खोल दिया गया है। भाई बीबा सिंह गुरुद्वारे को एक कार्यक्रम के दौरान बुधवार को इवेक्यू ट्रस्ट प्रॉपर्टी बोर्ड ने सिख समुदाय को सौंप दिया। इस गुरुद्वारे को सिखों के दसवें गुरु गोबिंद सिंह के भाई बीबा सिंह ने बनवाया था। ये गुरुद्वारा मुस्लिमों और सिखों के बीच विवाद के बाद 1942 में बंद कर दिया गया था।  

पाकिस्तान सिख समुदाय के चेयरपर्सन रादेश सिंह ने कहा कि इससे पहले शहर में दो गुरद्वारे थे। इसमें से एक पर आर्मी ने बेस बना लिया। 1200 सिखों के लिए एक गुरद्वारे में जाना काफी मुश्किल था। पाकिस्तान सिख समुदाय ने गुरुद्वारा दोबारा खोले जाने पर खुशी जताई है। इस गुरुद्वारे को दोबारा खोले जाने के फैसले के बाद इस पर साढ़े आठ लाख रुपए खर्च कर रेनोवेशन किया गया। यह काम 2013 से चल रहा था।

माइनॉरिटी अफेयर्स मिनिस्टर सरदार सोरन सिंह ने सूबे की सरकार की ओर से तीन लाख रुपए का फंड दिया।