गनर की पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष के घर में गोली लगने से मौत

हमीरपुर (28 मार्च): यूपी के हमीरपुर में एक बड़ी घटना सामने आई है। यहां पर पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष गौरी मिश्रा के सरकारी गनर की उन्हीं के घर में संदिग्ध परिस्थियों में गोली लगने से मौत हो गई, जिसमें पुलिस सुरक्षा में तैनात सिपाही की तहरीर पर मुकदमा दर्ज करके एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है।

वहीं कानपुर से आये कॉन्स्टेबल के परिवार वालों ने कोतवाली हमीरपुर पहुंचकर इस पूरी घटना को साजिश के तहत हत्या करने का आरोप लगाया है। कानपुर के नौबस्ता के रहने वाले मनीष शर्मा 2 साल से हमीरपुर में तैनात थे। कई जगह ड्यूटी के बाद कुछ दिनों पहले ही उनको हमीरपुर जिले से सपा के पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष रही गौरी मिश्रा और प्रतिनिधि जीतेन्द्र मिश्रा की सुरक्षा में तैनात कर दिया गया था। लिहाजा मनीष जीतेंद्र मिश्रा के घर पर ड्यूटी करते थे।

बताया जा रहा है की जीतेन्द्र मिश्रा के प्राइवेट गनर की बन्दूक से संदिग्ध परिस्थियों में गोली चल गई जो सामने बैठे मनीष की पीठ पर जा लगी। मौके पर मौजूद साथी सिपाहियों ने जिला अस्पताल लाये लेकिन हालत गम्भीर होने पर उन्हें कानपुर के रीजेंसी हॉस्पिटल रेफर कर दिया गया जहां पर उनकी मौत हो गई।