सऊदी अरब और यूएई ने मिलकर बनाया नया संगठन

नई दिल्ली ( 5 दिसंबर ): सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान आए दिन नए फैसले रहे हैं। क्राउन प्रिंस का दर्जा संभालने के वक्त से ही प्रिंस अपने तौर-तरीकों को लेकर सुर्खियों में रहे हैं। सऊदी अरब में संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) ने मंगलवार को सऊदी अरब के साथ मिलकर नया आर्थिक और साझेदारी समूह बनाने की घोषणा की। यह 'खाड़ी सहयोग परिषद' (जीसीसी) से अलग काम करेगा। यूएई के इस कदम से खाड़ी देशों के बीच की दरार और चौड़ी हो गई है।

इस साझेदारी की घोषणा कुवैत में होने वाली जीसीसी की बैठक से कुछ घंटे पूर्व यूएई के विदेश मंत्री ने की। 'ज्वायंट को-ऑपरेशन कमेटी' को यूएई के शासक और राष्ट्रपति शेख खलीफा बिन जायेद अल नेहान ने मंजूरी दे दी है।

यूएई के अनुसार नई समिति का कार्य दोनों देशों के बीच सैन्य, राजनीतिक, आर्थिक, व्यापार और संस्कृति के क्षेत्र में सहयोग की सभी संभावनाओं को तलाशना और द्विपक्षीय हित में अन्य देशों के साथ बातचीत करना होगा। यूएई और सऊदी अरब के संबंधों में हाल के वर्षों में गर्माहट आई है।

यमन में यूएई की सेना सऊदी गठबंधन के साथ मिलकर विरोधी गुट के साथ लड़ रही है। अमेरिका के सहयोगी खाड़ी देशों ने मिलकर 1981 में ईरान के विरोध में जीसीसी का गठन किया था।