गुलाम नबी आजाद का केंद्र पर बड़ा हमला, कहा- 'सरकार ने विपक्ष को बना दिया आतंकी'

नई दिल्ली (5 फरवरी): संसद में आज राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव के दौरान सत्ता पक्ष और विपक्ष ने एक दूसरे पर जमकर हमला किया। राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाम नबी आजाद ने सरकार को जमकर घेरा। मोदी सरकार को 70 सालों में सबसे कमजोर सरकार बताते हुए उन्होंने कहा कि सरकार विपक्ष के नेताओं के फोन टैप करवा रही है। सरकार ने पूरे विपक्ष को आतंकवादी बना दिया है। 

गुलाम नबी आजाद ने आरोप लगाया कि सरकार विपक्ष के नेताओं के फोन टैप करवा रही है। उन्होंने कहा कि हमारे वक्त में तो आतंकवादियों के फोन टैप किए जाते थे। आज हमारे फोन टैप किए जा रहे हैं। आपने तो हमें अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी बना दिया। विपक्ष को आतंकवादी बना दिया है। 

गुलाम नबी आजाद यही नहीं रूके उन्होंने कहा कि बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओं का नारा दिया जा रहा है। आज बीजेपी शासित राज्य, खासतौर पर हरियाणा तो बलात्कार का गढ़ गया है। पहली दफा ऐसा सुनने को मिल रहा है कि 8 महीने की बच्ची के साथ बलात्कार हो रहा है। जिस वक्त राष्ट्रपति भाषण दे रहे थे, उस दिन आठ महीने की बच्ची के साथ बलात्कार हो रहा था। इसके लिए सरकार ने क्या कदम उठाए ? यह कौन से भारत का निर्माण हो रहा है। अगर यह नया भारत है तो मुझे अफसोस है ऐसे भारत पर।

नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि 2014 में 15 लाख देने का वादा किया गया था, उसका राष्ट्रपति के भाषण में कोई जिक्र नहीं था। उन्होंने कहा कि नौजवान काम मांग रहे हैं, उनसे वादा किया था 10 करोड़ नौकरियों का, उसका कोई उल्लेख नहीं है। किसानों से वादा किया था आय दोगुनी करने का। पेट्रोल-डीजल और गैस की कीमतें आसमान पर हैं। डीजल-पेट्रोल पर जो पैसा आप बचा रहे हैं, अगर ऐसा हमारे वक्त होता तो हम क्रांति ला देते। आप तो बस हमारी योजनाओं के फीते काटते हैं, अपना आपके पास कुछ नहीं है।