गुजरात ATS ने दबोचा दस जवानों की हत्या करने वाला कुख्यात नक्सली

                                                                                                             Image Source: Google

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (24 नवंबर): गुजरात एटीएस ने दो साल पहले 2016 में बिहार के औरंगाबाद जिले में सीआरपीएफ की टीम पर हमला कर 10 जवानों को मौत के घाट उतारने वाला वान्टेड नक्सली राजेश उर्फ गोपाल प्रसाद उर्फ उत्तम मोची (33) को वापी जिले से गिरफ्तार किया है। वह यहां नाम बदलकर एक कंपनी में नौकरी कर रहा था। बता दें कि उस पर हत्या, अपहरण सहित देशविरोधी के 50 से अधिक मामले दर्ज है। बिहार सरकार ने उस पर 50 हजार का इनाम भी रखा है।

गुजरात एटीएस ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि बिहार के गया जिले नीमच कबथानी के बहोरमां गांव निवासी आरोपी राजेश भारत कोम्युनिस्ट पार्टी (माओवादी) का सदस्य है। उसने वर्ष 2016 में बिहार के औरंगाबाद के जंगल क्षेत्र में अपने साथियों के साथ मिलकर ओटोमेटिक हथियारों से हमला कर सीआरपीएफ के 10 जवानों को मौत के घाट उतार दिया। मार्च 2017 में गुरपा के जंगल में पुलिस ने नक्सलियों को पकड़ने के लिए पूरे क्षेत्र को घेर लिया था। तभी मुठभेड़ में चार माओवादी मारे गये थे। इस मुठभेड़ में राजेश के हाथ पर गोली लगी थी और वह फरार हो गया था

मीडिया रिपोर्ट्स के हवाले से आ रही खबरों के मुताबिक बिहार राज्य के गया जिले का रहने वाला राजेश मोची पर अलग-अलग पुलिस थानों पर 50 से अधिक मामले दर्ज है। उसे पकड़ने के लिए बिहार की अलग-अलग पुलिस एजेन्सियां लगी हुई थी। हांलाकि पकड़  में न आने से बिहार सरकार ने उसे वान्टेड घोषित कर उसकी जानकारी देने वाले को 50 हजार रुपये देने की घोषणा की थी।