पत्नी है पाकिस्तानी तो भारत के इस जिले आपके लिए नो एंट्री

नई दिल्ली(13 दिसंबर): अगर आपने पाकिस्तानी लड़की से शादी की है तो गुजरात के एक जिले में आपके लिए नो एंट्री का बोर्ड लगा है। जी हां, गुजरात के कच्छ के रहने वाले अल्ताफ पालेजा को सिर्फ इसलिए पत्नी के साथ घर नहीं जाने दिया क्योंकि उनकी पत्नी पाकिस्तानी हैं। अल्ताफ की पत्नी सिद्रा पाकिस्तानी नागरिक हैं और कुछ ही महीनों पहले इन दोनों की शादी हुई है।

एक अंग्रेजी अख़बार की रिपोर्ट के मुताबिक सिद्रा और उनका परिवार करीब 8 महीने पहले भारत आया है लेकिन उनका वीजा ही इस शर्त पर मंजूर किया गया है कि वो कच्छ छोड़कर भारत में कहीं भी ठहर सकती हैं। इसी के बाद उनके परिवार ने मजबूरी में कच्छ के पास मोर्बी में रुकने का फैसला लिया हालांकि वहां भी उन्हें घर देने के लिए कोई तैयार नहीं हुआ। याहं भी सब लोगों ने घर देने से सिर्फ इसलिए इनकार कर दिया क्योंकि ये लोग पाकिस्तानी हैं। इसके बाद से ही परिवार कच्छ के बाहर एक होटेल में रुका हुआ है।

अल्ताफ पालेजा कहते हैं- 'थक-हारकर हमें एक होटेल में रुकना पड़ा, यह बहुत कठिन था, क्योंकि मेरे परिवार को भी ससुराल वालों के साथ होटेल में ही रुकना पड़ा।' उनके मुताबिक परिवार ने पाकिस्तान में ऑफिस ऑफ हाई कमिश्नर ऑफ इंडिया को सूचित किया लेकिन उन्होंने भी परिवार को कच्छ में न रहकर किसी और जिले में रहने की सलाह दे डाली। पालेजा कहते हैं, 'यह वाकई अजीब है, अथॉरिटी के पास मेरी पत्नी को अलाउ न करने का कोई कारण नहीं है।' हालांकि कच्छ एमपी विनोद छावड़ा ने इंडियन हाई कमिश्नर को पाकिस्तानी नागरिकों के भुज जिले में रहने के लिए अनुमति पत्र लिखा है।