गुजरात: पटेल समुदाय का बंद का ऐलान, राज्य भर में 20 SRP की टुकड़ियां तैनात

अहमदाबाद (18 अप्रैल): गुजरात में पटेल समुदाय ने आज बंद का ऐलान किया है। कल मेहसाणा समेत गुजरात के कई हिस्सों में हिंसा हुई थी। इसके मद्देनजर चार जिलों में इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई थी। राज्य भर में 20 SRP की टुकड़ियां तैनात की गई हैं। 

रविवार को मेहसाणा की सड़कों पर 10 महीने के भीतर गुजरात के गदर पार्ट टू की पटकथा लिखी जा रही थी। लालजी पटेल के नेतृत्व में हार्दिक पटेल की जेल से रिहाई के लिए उठी आवाज हिंसक आंदोलन में बदल गई। हर तरफ कोहराम मच गया, पटेल समुदाय के लोगों का गुस्सा जेल भरो कार्यक्रम के दौरान खुलकर सामने आ गया। हालात इस कदर बेकाबू हुआ कि आंदोलन की चिंगारी शोले में तब्दील हो गई।

लालजी के जख्मी होने की खबर जैसे ही गुजरात के बाकी हिस्सों में फैली लोग सड़कों पर उतर गए। पटेल समुदाय के लोग भड़क गए और मेहसाणा में हुई घटना के विरोध में आज पटेल समुदाय ने गुजरात बंद का अह्वान कर दिया। गुजरात पुलिस के आलाधिकारियों ने बंद के अह्वान को देखते हुए हाई लेबल बैठक कर सुरक्षा का जाय़जा लिया।

मोबाइल इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई है, जबकि मेहसाणा में कर्फ्यू लगा दिया गया है। हालांकि सीएम अनंदीबेन पटेल पटेल आंदोलन को हल्के में देख रही हैं। उन्होंने कहा कि ऐसे आंदोलन होते रहते हैं , सरकार का काम विकास कार्यों के जरिए जनता की सेवा करना है।

आपतो बता दें पिछले साल हार्दिक पटेल ने अन्य पिछले वर्ग के तहत पाटीदारों के आरक्षण की मांग उठाई थी। जिसमें उन्हें लाखों लोगों का समर्थन मिला था। लेकिन आंदोलन के हिंसक हो जाने से आऱक्षण की मांग करने वाले नेता हार्दिक पटेल के खिलाफ राजद्रोह का मुकदमा दर्ज कर दिया। इसके बाद से हार्दिक जेल में हैं। रविवार को पटेल समुदाय हार्दिक की रिहाई को लेकर सड़कों पर उतरा था। अब देखना है कि एक साल के भीतर दूसरी बार हिंसक हुए इस पटेल आंदोलन का नतीजा क्या निकलता है।