IS संदिग्ध भाइयों का खुलासा- गुजरात में ऐसे 40 और IS ऑपरेटर

नई दिल्ली(28 फरवरी): राजकोट में गिरफ्तार किए गए आईएस के 2 संदिग्धों भाइयों ने कई खुलासे किए हैं। दोनों ने बताया कि राजकोट के त्रिकोण बाग और गुंडावाड़ी इलाके में उनकी योजवा बम विस्फोट की थी।

- सोमवार को पेशी के बाद दोनों को कोर्ट ने 10 मार्च तक एटीएस की कस्टडी में भेज दिया है। दोनों ने जांच टीम को भारत में आईएस के नेटवर्क के बारे में भी कई महत्वपूर्ण जानकारी दी।

- एक अधिकारी ने बताया, 'जांच के दौरान दोनों भाइयों ने 40 और लोगों के नाम बताए हैं। अहमदाबाद समेत गुजरात के कई हिस्सों में ये 40 संदिग्ध फैले हुए हैं और आईएस की दुनिया भर में चलने वाली गतिविधियों से जुड़े हैं। हम इन सभी लोगों की पहचान चिन्हित करने की कोशिश कर रहे हैं ताकि इनके असली मंसूबे तक पहुंचा जा सके।'

- सवाल-जवाब के दौरान वसीम ने एटीएस जांच टीम को बताया कि उसकी पत्नी अक्सर उसे नामर्द होने का ताना देती थी। वसीम ने कहा, 'आईएस संचालकों द्वारा दिए गए काम सही से नहीं कर पाने के कारण बीवी ताना देती थी।' जांच टीम के अनुसार आईएस ऑपरेटर्स 'बिग कैट' और 'वनगोल1ऐम' जैसे नामों के साथ आपस में संपर्क करते थे। टीम को शक है कि @katakat313 हैंडल से वसीम से सोशल मीडिया पर संपर्क में रहने वाले भारतीय भी हो सकते हैं।