GST: अब वॉशिंग मशीन, फ्रीज समेत ये सामान होंगे सस्ते

नई दिल्ली ( 20 नवंबर ): कंज्यूमर प्रोडक्ट और दैनिक उपयोग की वस्तुओं पर टैक्स घटाने के बाद अब सरकार एसी, फ्रिज, टीवी और वॉशिंग मशीन पर जीएसटी को घटा सकती है। अभी इन पर 28 फीसदी टैक्स लगता है। इस बारे में जीएसटी काउसिंल अगले महीने फैसला लेगा। 

अभी टैक्स ज्यादा होने से इन गुड्स की डिमांड काफी कम हो गई है। वहीं प्रोडक्शन में किसी प्रकार की कोई कमी नहीं हुई है। इस वजह से कंपनियां और रिटेल डीलर्स बार-बार सरकार से टैक्स कम करने की गुजारिश कर रहे थे। जीएसटी के लागू होने से पहले पहले सरकार का तर्क था कि यह लक्जरी आइटम हैं, इसलिए इनको अधिकतम स्लैब में रखा जाए। 

एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक जीएसटी परिषद आने वाले दिनों में वॉशिंग मशीन, फ्रिज और डिश वॉशर समेत कई अन्य सामान का रेट घटाकर उन्हें 28 फीसदी से निकाल कर सस्ता कर सकती है।

इसके अलावा जीएसटी टैक्स स्लैब में भी बदलाव किया जाना तय माना जा रहा है। जीएसटी परिषद के सदस्य और बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने कहा है कि जीएसटी के तहत आने वाले समय में सिर्फ दो टैक्स स्लैब रखे जाने पर विचार किया जा सकता है।

कारोबारियों के लिए कई अहम बदलाव करने के साथ ही जीएसटी परिषद सीमेंट और पेंट को भी 28 फीसदी से नीचे के टैक्स स्लैब में रखने पर विचार कर सकती है। फिलहाल इन दोनों उत्पादों को 28 फीसदी टैक्स स्लैब में रखा गया है। घर निर्माण और कई अहम निर्माण के कार्य में इनका इस्तेमाल होता है। ऐसे में परिषद इनका रेट कम करने पर भी विचार करेगी।