राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी और पीएम मोदी ने लॉन्च किया GST


नई दिल्ली (30 जून): संसद के सेंट्रल हाल में वित्तं मंत्री अरुण जेटली, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के संबोधन के बाद पूरे देश में जीएसटी लागू कर दिया गया। राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी और पीएम नरेंद्र मोदी ने संसद के सेंट्रल हाल से देशभर में GST लागू किया।


UPDATES...


- जीएसटी निर्यात को अधिक प्रतिस्पर्धी बनाएगा, घरेलू उद्योगों को भी आयात के साथ प्रतिस्पर्धा करने का मौका देगा: प्रणब मुखर्जी
- #GST के लिए तकनीकी इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार करना बड़ा काम रहा,  इससे देश का एक्सपोर्ट आगे बढ़ेगा: प्रणब मुखर्जी
- GST भारत के लोकतंत्र की परिपक्वता और ज्ञान को एक भेंट है: प्रणब मुखर्जी 

- टैक्स सिस्टम का यह नया युग केंद्र और राज्यों के बीच व्यापक सहमति का परिणाम है: प्रणब मुखर्जी

- सबने संकुचित मतभेद भुला कर देशहित में काम किया है: राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी 

- मैं उस समय वित्त मंत्री के रूप में जीएसटी की रूपरेखा तय करने में काफी करीब से शामिल रहा: प्रणब मुखर्जी

- मुझे यकीन था कि #GST आखिरकार लागू होगा, जीएसटी से मेरा लंबा जुड़ाव रहा है: राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी 

- यह ऐतिहासिक क्षण चौदह वर्ष की उस लंबी यात्रा की समाप्ति है जो दिसंबर 2002 में शुरू हुई थी: प्रणब मुखर्जी

- जीएसटी की प्रक्रिया 2006-07 से शुरु हुई- राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी 

संसद के सेंट्रल हाल में राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने संबोधन शुरू किया। 


- टैक्स टैररिज्म और इंस्पेक्टर राज को खत्म करेगा #GST, सामान्य कारोबारियों को अब अफसर बेवजह परेशान नहीं कर सकते : पीएम

- राज्यों के अलग-अलग टैक्सों के कारण असमानता दिखती है। हम इससे मुक्ति की ओर आगे बढ़ रहे हैं: पीएम मोदी
- जीएसटी को लेकर जो लोग आशंकाएं जता रहे हैं उनसे आग्रह है कि वे ऐसा न करें: पीएम मोदी
- #GST वास्तव में गुड एंड सिंपल टैक्स है, क्योंकि इसमें टैक्स पर टैक्स नहीं लगेगा और देश में एक टैक्स लगेगा: पीएम मोदी 

- #GST एक टैक्स रिफॉर्म नहीं बल्कि एक आर्थिक और सामाजिक रिफॉर्म है : पीएम मोदी

- #GST एक ऐसी व्यवस्था है जिसे राज्य और केंद्र मिलकर चलाएंगे। ये एक भारत श्रेष्ठ भारत का नमूना है: पीएम मोदी

- #GST एक ऐसा कैटालिस्ट है जो देश के व्यापार को बल देगा: पीएम मोदी 

- जब नए नंबर का चश्मा लगता है तो आंखों को थोड़ा एडजस्ट करना होता है, तो ये भी कुछ ऐसा ही होगा: पीएम मोदी 

- देश के गरीबों के हित के लिए #GST सबसे ज्यादा कारगर होगी। अब कच्चा बिल-पक्का बिल की दिक्कत खत्म हो जाएगी: पीएम मोदी 

- GST एक ऐसी व्यवस्था है जो ईमानदारी को अवसर देती है, पारदर्शिता लाती है और भ्रष्टाचार को रोकने में कारगर है: पीएम मोदी 

- GST के आने से गांधीनगर से लेकर ईंटानगर तक लगने वाले तमाम टैक्स खत्म हो जाएंगे: पीएम मोदी

 

- आइंस्टीन ने कहा था कि अगर दुनिया में सबसे मुश्किल कुछ समझना है तो वो है इनकम-टैक्स, वो इस देश में होते तो क्या होता: पीएम मोदी 

- देश आजाद हुआ 500 से ज्यादा रियासतें थीं, लेकिन सरदार पटेल ने देश का एकीकरण किया, आज जीएसटी की मदद से आर्थिक एकीकरण होगा- पीएम मोदी 

- गीता के भी 18 अध्याय हैं और जीएसटी काउंसिल की भी 18 बैठक हुई- पीएम मोदी 

- जीएसटी में गरीबों की समान रूप से चिंता की गई है: पीएम मोदी

- GST पर संसद में पहले के सांसदों ने मौजूदा सांसदों ने लगातार चर्चा की है और उसी का परिणाम है कि आज हम इसे साकार रूप में देख पा रहे हैं- पीएम मोदी

- GST को-ऑपरेटिव फेडरेशन की एक मिसाल है जो हमारे साथ चलने और हमारी सामर्थ्य का परिचायक है- पीएम मोदी - ये स्थान देश की महान घटना का साक्षी है, आज नई अर्थव्यवस्था के लिए GST के लिए इस स्थान से बढ़कर कोई स्थान नहीं हो सकता- पीएम मोदी

- जीएसटी की प्रक्रिया केवल अर्थव्यवस्था के दायरे तक सीमित नहीं है- पीएम मोदी
- आज मध्यरात्रि से हम देश का आगे का मार्ग सुनिश्चित करने जा रहे हैं: पीएम मोदी

GST किसी एक दल की सिद्धि नहीं है, ये सभी दलों की साझी विरासत है- पीएममोदी

- इस पवित्र अवसर पर आप सब अपना बहुमूल्य समय निकाल कर आए हैं, आप सभी का आभार व्यक्त करता हूं- पीएम 

- कुछ देर में देश एक नई व्यवस्था की ओर चल पड़ेगा, सवा सौ करोड़ देशवासी इसके साक्षी बनेंगे-  @narendramodi

- GST लॉन्च कार्यक्रम में पीएम नरेंद्र मोदी ने शुरु किया संबोधन


- GST काउंसिल के सदस्य जो अलग-अलग राज्यों के वित्तमंत्री हैं उन्होंने रात-दिन इसके लिए मेहनत की है, उनका धन्यवाद: वित्त मंत्री
- वित्त मंत्री ने कहा 'इतिहास बनाने की शुरुआत हुई'


- GST की विशेषता है कि अलग-अलग टैक्स के ऊपर टैक्स नहीं लगेगा: वित्त मंत्री 

- GST काउंसिल की जिम्मेदारी थी कि केंद्र और राज्य के लिए नियम बनाएं। काउंसिल 18 बार मिल चुकी हैं, लेकिन वोट कराने की स्थिति नहीं आई: वित्त मंत्री 

- 15 साल पहले GST की प्रक्रिया शुरु हुई और राष्ट्रपति महोदय ने इस सफर को देखा है- वित्त मंत्री
- एक ऐसे दौर में आ रहा है जब दुनिया मंदी के दौर से गुजर रही है- वित्त मंत्री

- एक टैक्स, एक देश और एक ही बाजार होगा: अरुण जेटली 

- अब एक देश, एक टैक्स और एक बाजार होगा- वित्तमंत्री

- संसद में वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा- आज आधी रात से हम देश का सबसे बड़ा टैक्स रिफॉर्म लॉन्च कर रहे हैं। 

- वित्त मंत्री अरुण जेटली ने संसद में भाषण शुरू किया 

- राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी के संसद भवन पहुंचने के बाद शुरू हुआ राष्‍ट्रगान 


राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी पहुंचे संसद भवन




पीएम मोदी संसद भवन पहुंचे


-रतन टाटा संसद भवन पहुंचे


- वित्त मंत्री अरुण जेटली संसद भवन पहुंचे