दुनिया के और देशों में कहां-कहां, कितना-कितना है GST?

नई दिल्ली (3 अगस्त) :  गुड्स एंड सर्विस टैक्स (GST) क्या अब बन जाएगा देश में हकीकत? ऐसा होता है तो सामान की खरीद और सर्विसेस पर टैक्स को लेकर बिल्कुल नई व्यवस्था सामने आने से हमारी-आपकी, कारोबारियों, सभी की दुनिया बदल जाएगी। केंद्र सरकार और राज्यों का भी अप्रत्यक्ष करों की वसूली का सिस्टम दूसरा ही हो जाएगा।

देश के नागरिकों पर जीएसटी का क्या असर होगा, ये बहुत निर्भर करेगा कि इसकी दर क्या तय की जाती हैं। यहां हम  आपको बताने जा रहे हैं कि दुनिया में कहां-कहां ये व्यवस्था लागू है। और कहां-कहां कितना देना होता है जीएसटी?

दुनिया के 160 देशों में जीएसटी या वैट व्यवस्था लागू है. फ्रांस ऐसा देश है जिसने सबसे पहले इस पर अमल किया. यूरोपियन यूनियन के अलावा ऑस्ट्रेलिया, कनाडा, ब्राजील, दक्षिण अफ्रीका और चीन जैसे देशों में भी यह लागू है. कनाडा के मॉडल की बात की जाए तो वहां टैक्स की दरें केंद्र सरकार तय करती है, लेकिन राज्य की सरकारों को इसे लागू करने या न करने की छूट रहती है. ऑस्ट्रेलिया में केंद्र की सरकार ही जीएसटी तय करती है और खुद ही इसे वसूलती है. इसके बाद टैक्स में राज्यों की हिस्सेदारी के अनुसार उन्हें उनका हिस्सा दिया जाता है.

किस देश में कितना जीएसटी?

सिंगापुर    7 फीसदी

जर्मनी       19 फीसदी

फ्रांस       20 फीसदी

स्वीडन     25 फीसदी

ऑस्‍ट्रेलिया  10 फीसदी

कनाडा      5 फीसदी

न्‍यूज़ीलैंड   15 फीसदी

पाकिस्‍तान  17 फीसदी