Blog single photo

जीएसटी काउंसिल की बैठक आज, सरकार लोगों को दे सकती है ये बड़ा तोहफा

GST काउंसिल की आज 31वीं बैठक होने जा रही है। वित्त मंत्री अरुण जेटली की अध्यक्षता में आज ये बैठक विज्ञान भवन में होगी। उम्मीद जताई जा रही है कि इस बैठक के बाद आम लोगों को थोड़ी राहत मिल सकता ही। मीडिया रिपोर्ट्स के हवाले से आ रही खबरों के मुताबिक लग्जरी वस्तुओं और तंबाकू-सिगरेट को छोड़कर रोजमर्रा की सभी वस्तुओं को 18 फीसदी या उससे भी कम जीएसटी के दायरे में लाया जा सकता है।

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (22 दिसंबर): GST काउंसिल की आज 31वीं बैठक होने जा रही है। वित्त मंत्री अरुण जेटली की अध्यक्षता में आज ये बैठक विज्ञान भवन में होगी। उम्मीद जताई जा रही है कि इस बैठक के बाद आम लोगों को थोड़ी राहत मिल सकता ही। मीडिया रिपोर्ट्स के हवाले से आ रही खबरों के मुताबिक लग्जरी वस्तुओं और तंबाकू-सिगरेट को छोड़कर रोजमर्रा की सभी वस्तुओं को 18 फीसदी या उससे भी कम जीएसटी के दायरे में लाया जा सकता है।गौरतलब है कि पीएम मोदी ने मंगलवार को संकेत दिया था कि आने वाले समय में 99 फीसदी वस्तुएं जीएसटी 18 फीसदी स्लैब में आ सकती हैं। मोदी ने एक निजी चैनल के कार्यक्रम में कहा कि केंद्र सरकार 99 फीसदी वस्तुओं को 18 फीसदी के स्लैब में लाने पर काम कर रही है।कांग्रेस प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने पीएम मोदी के बयान पर संसद भवन परिसर में संवाददाताओं से कहा कि राहुल गांधी लंबे समय से बोलते आ रहे हैं कि ‘एक देश, एक कर नहीं’ बल्कि ‘एक देश, सात कर’ चल रहा है। पहले इस बात का मजाक बनाया जाता था। अब जब तीन राज्यों में करारी हुई है और दो राज्यों में भाजपा का सूपड़ा साफ हो गया है तथा लोकसभा चुनाव में 100 दिन बचे हैं तो प्रधानमंत्री कहते हैं कि 99 फीसदी वस्तुओं को जीएसटी के 18 फीसदी वाले स्लैब में लाया जाएगा।बता दें कि पीएम मोदी ने गुजरात विधानसभा चुनाव के समय जीएसटी स्लैब पर राहुल गांधी के विचार को ‘ग्रैंड स्टुपिड थॉट (बेहद बकवास विचार)’ कहा था। अब हम पूछना चाहते हैं कि क्या प्रधानमंत्री का नया बयान ‘ग्रैंड स्टुपिड थॉट’ नहीं है?’’ सिंघवी ने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री जी, अब आपके जाने का समय आ गया है। अब दोहरी बात करना बेकार है। तीनों राज्यों में आपने ट्रेलर देखा है और जल्द ही पूरी फिल्म सामने आ जाएगी।

Tags :

NEXT STORY
Top