BREAKING: त्योहारों से पहले मोदी सरकार का बड़ा तोहफा, इन चीजों पर टैक्स किया कम

 

नई दिल्ली (6 अक्टूबर): दिवाली से पहले केंद्र सरकार ने व्यापारियों से लेकर आम लोगों को बड़ी राहत दी है। वित्त मंत्री अरुण जेटली की अगुवाई में जीएसटी काउंसिल की हुई बैठक सरकार ने कई अहम फैसले किए। 

जीएसटी काउंसिल की बैठक के बाद वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि आम, खाखरा और आयुर्वेदिक दवाओं पर जीएसटी की दर 12 से 5 फीसदी की गई है। स्टेशनरी के कई सामान पर जीएसटी 28 से 18 प्रतिशत कर दी गई है। हाथ से बने धागों पर जीएसटी 18 से 12 प्रतिशत कर दी गई है। प्लेन चपाती पर जीएसटी 12 से 5 प्रतिशत कर दी गई है। आईसीडीएस किड्स फूड पैकेट पर जीएसटी 18 से 5 प्रतिशत की गई है।

अनब्रैंडेड नमकीन पर 5 प्रतिशत जीएसटी की दर लागू होगी। यही दर अनब्रैंडेड आयुर्वेदिक दवाओं पर भी लागू होगी। डीजल इंजन के पार्ट्स पर अब 18 फीसदी जीएसटी लगेगी। साथ ही दरी (कारपेट) पर जीएसटी की दर को 12 से 5 प्रतिशत कर दिया गया है।

घटाएं इन चीजों के दाम...

- बच्चों के फूड आइटम्स, स्टेशनरी के सामान होंगे सस्ते

- सस्ता होगा फर्श बनाने वाला पत्थर

- सूत सस्ता होगा, जरी के कपड़े और प्रिंटिंग आइटम्स भी सस्ते होंगे

- डीजल इंजन और पंप के पुर्जे भी सस्ते होंगे

- कटे हुए आम, खाखरा, नमकीन और आयुर्वेदिक दवाएं होंगी सस्ती

- रेस्ट्रॉन्ट बिजनस वालों को 5 प्रतिशत टैक्स देना होगा

- मैन्युफैक्चरिंग करने वाले 2 फीसदी टैक्स देंगे

- ट्रेडिंग करने वाले लोग अब 1 फीसदी टैक्स देंगे