नवंबर में गिरा औद्योगिक उत्पादन, 2.2 रहा

नई दिल्ली (12 दिसंबर): नवंबर में खुदरा महंगाई दर के बढ़ने के साथ-साथ औद्योगिक उत्पादन में भी बड़ी गिरावट दर्ज की गई है। इस महीने उद्योग उत्पादन 3.8 प्रतिशत से घटकर 2.2 रह गया।

इससे पहले अक्टूबर में आठ बुनियादी उद्योगों की वृद्धि दर धीमी होकर 4.7 प्रतिशत रही थी। मुख्य रूप से सीमेंट, इस्पात और रिफाइरी क्षेत्रों के कमजोर प्रदर्शन से बुनियादी उद्योगों की वृद्धि दर कम हुई है। पिछले साल इसी महीने में बुनियादी उद्योगों की वृद्धि दर 7.1 प्रतिशत थी। बुनियादी उद्योगों में कोयला, कच्चा तेल, प्राकृतिक गैस, रिफाइनरी उत्पाद, उर्वरक, इस्पात, सीमेंट तथा बिजली आते हैं।

इसी प्रकार, रिफाइनरी में वृद्धि दर धीमी होकर इस साल अक्तूबर में 7.5 प्रतिशत रही जबकि पिछले साल इसी महीने में इसमें 12.6 प्रतिशत की वृद्धि हुई थी। सालाना आधार पर बिजली उत्पादन भी धीमा रहा है। दूसरी तरफ, कोयले में अच्छी वृद्धि देखी गयी और इसमें पिछले महीने 3.90 प्रतिशत की वृद्धि हुई। एक साल पहले इसी अवधि में इसमें 1.9 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गयी थी। उर्वरक क्षेत्र में आलोच्य महीने में 3.0 प्रतिशत की वृद्धि हुई जबकि पिछले साल अक्तूबर में 0.7 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई थी।