जाटों की जंग: सीधे ग्राउंड ज़ीरो से न्‍यूज24 की रिपोर्ट

मोहित मल्होत्रा, नई दिल्ली (20 फरवरी): हरियाणा में आरक्षण की जंग को लेकर बड़ा हाहाकार मच गया है। ओबीसी कोटे में आरक्षण की मांग पर अड़े जाटों के आंदोलन ने हरियाणा के नौ शहरों को अपनी चपेट में ऐसा लिया है कि पांच शहरों में कर्फ्यू लगाना पड़ गया है। सेना और अर्धसैनिक बलों की टुकड़ियां फ्लैग मार्च कर रही हैं। हरियाणा में इस वक्त कम से कम पांच सौ सड़कों पर जाट जाम लगाकर बैठ गए हैं। दिल्ली तक इसका असर देखने को मिलने लगा है।

हरियाणा में हिंसक आंदोलन पर उतारू हुए जाटों की मांग है कि उन्हें ओबीसी कोटे में आरक्षण दिया जाए। आंदोलन की वजह से अब तक हरियाणा में करीब 250 करोड़ रुपए का नुकसान हो चुका है। जबकि रद्द हुए 150 ट्रेनों की वजह से रेलवे को 200 करोड़ रुपए का घाटा उठाना पड़ा है। कल ही हरियाणा के तीन शहरों में कर्फ्यू लगा दिया गया था। लेकिन बावजूद उसके इन इलाकों से हिंसा की खबरें आती रहीं।

यूपीए सरकार ने 2014 में हरियाणा समेत 9 राज्यों में जाटों को ओबीसी में लाने का फैसला किया था। फिर सुप्रीम कोर्ट ने जाटों को पिछ़ड़ा मानने से इनकार किया और 17 मार्च 2015 को सरकार का ऑर्डर रद्द कर दिया। सरकार ने रिव्यू पिटीशन लगाई। कोर्ट ने पिछले हफ्ते उसे भी खारिज कर दिया और कहा, 'पिछला ऑर्डर ही सही है। यही वजह है कि अब जाट अड़े हैं कि विधेयक लाकर खट्टर सरकार जाटों का आरक्षण दें। इसीलिए आंदोलन छेड़ दिया।

देखिए ग्राउंड ज़ीरो रिपोर्ट:

[embed]https://www.youtube.com/watch?v=TRsYJZKcTYs[/embed]