पाक मानवाधिकार आयोग ने कहा-कराची के हालात विस्फोटक हैं

नई दिल्ली (2 अक्टूबर):पाकिस्तान के मानवाधिकार आयोग ने देश के सबसे बड़े शहर कराची में मानवाधिकार एवं सुरक्षा की स्थिति पर गंभीर चिंता व्यक्त जताते हुए कहा है कि हाल के महीनों में स्थिति और बिगड़ी है। कराची के हालात काफी विस्फटोक हैं। पाकिस्तान मानवाधिकार आयोग एचआरसीपी ने एक बयान में कहा, कराची में रेंजर्स अभियान का तीन साल इसी महीने पूरा हुआ।

इसमें कोई शक नहीं है कि लक्षित हत्या और जबरन वसूली की घटनाएं काफी घटी है लेकिन न्यायेत्तर हत्या और उत्पीडऩ के मामले आ ही रहे हैं। यह बहुत ही निराशा और चिंता का विषय है कि इन मामलों की व्यवस्थित ढंग से जांच के लिए कुछ खास नहीं किया गया है।  उसने कहा, शहर में गुमशुदगी की शिकायतें बढ़ रही हैं। कई लोगों को उनके राजनीतिक झुकाव के चलते निशाना बनाया गया।