पहाड़ी क्षेत्रों को भी 'उड़ान योजना' से जोड़ेगी सरकार, 9 सीटर प्लेन और हेलिकॉप्टर भरेंगे उड़ान

नई दिल्ली ( 24 अगस्त ): नागरिक उड्डयन मंत्री अशोक गजपति राजू ने गुरुवार को क्षेत्रीय कनेक्टिविटी स्कीम (उड़ान) के तहत दूसरे दौर की बोली घोषणा की। विशेष रूप से मुश्किल और दूरदराज के क्षेत्रों के लिए और यूएनएन -2 के तहत हेलिकॉप्टर के लिए सरकार ने कुछ अतिरिक्त रियायतों की घोषणा की है। इस योजना के तहत दूसरे दौर की बोली आज शुरू हुई। इसमें छोटे विमानों को पूर्वोत्तर राज्यों और उत्तराखंड सहित प्राथमिकता वाले क्षेत्रों में आरसीएस के तहत उड़ानों की अनुमति दी गई है। इस योजना के तहत परिचालन करने वाले हेलिकॉप्टरों के लिए वीजीएफ बढ़ाने की घोषणा भी की गई। 

सरकार ने नौ सीटर प्लेन और हेलिकाप्टरों को भी अनुमति दे दी है। सरकार के इस कदम से जम्मू और कश्मीर, हिमाचल, उत्तरांचल और उत्तर-पूर्व जैसे क्षेत्रों को प्रोत्साहन मिलेगा। सरकार का मकसद छोटे से छोटे क्षेत्रों को भी हवाई मार्ग से जोड़ना है। 

सरकार ने पात्रता के लिए हवाई अड्डों के बीच 150 किमी की कम दूरी की सीमा को भी हटा दिया गया है।