अब बिजली चोरी करने वालों की नहीं खैर, सरकार बदलेगी बिजली के मीटर

नई दिल्ली (11 अगस्त): अब बिजली चोरों पर मोदी सरकार ने बड़ा शिकंजा कसना शुरू का दिया है। अभी तक लोग बिजली मीटर से छेड़छाड़ कर चोरी करते थे, अब वह ऐसा नहीं कर पाएंगे। क्योंकि सरकार जल्दी ही आपके घर के पुराने बिजली के मीटर को हटा सकती है।

केंद्रीय ऊर्जा मंत्री पीयूष गोयल ने लोकसभा में जानकारी दी कि सरकार बिजली के स्मार्ट मीटर की कीमत को 10 हजार रुपए से घटाकर एक हजार रुपए करने का प्रयास कर रही है। स्मार्ट मीटर की कीमत घटाने के बाद सरकार इन मीटरों को हर घर और ऑफिस में लगा सकती है। ऊर्जा मंत्री ने कहा कि ऐसा होने पर जहां एक तरफ बिजली की चोरी पर रोक लग सकेगी वहीं बिजली की खपत की सटीक रीडिंग भी मिलेगी।

ऊर्जा मंत्री ने बताया कि स्मार्ट मीटर से छेड़खानी संभव नहीं होगी और इससे घर-घर जाकर बिजली की रीडिंग लेने के लिए लाइनमैन का काम भी खत्म हो जाएगा क्योंकि स्मार्ट मीटर से रीडिंग सीधे कंप्यूटर में जमा हो जाएगी। ऊर्जा मंत्री ने कहा कि बिजली के मीटर पूरी तरह से देश में ही बनेंगे।

ऊर्जा मंत्री ने बताया कि जिस तरह सरकार ने 300 रुपए के एलईडी बल्ब की कीमत को घटाकर 40 रुपए कर दिया है उसी तरह 10,000 रुपए के स्मार्ट मीटर की कीमत को घटाकर पहले 2000-1500 रुपए तक लाया जाएगा और बाद में 1000 रुपए से भी नीचे किया जाएगा। ऊर्जा मंत्री ने भरोसा जताया कि सरकार 2022 तक पूरे देश के विद्युतिकरण के लक्ष्य को हासिल कर लेगी।