यह सरकारी मोबाइल एप है, इ्सका नाम है 'सेक्स गुरु' !

नई दिल्ली (22 सितंबर): दक्षिण अमेरिकी देश उरूग्वे में खुलापन इतना बढ़ गया है कि 15 से 17 साल की लड़कियां प्रेग्नेंट होने लगी हैं। इन लड़कियों को ने तो प्रेग्नेंसी के दौरान सावधानियों का पता है और न कम उम्र में मां बनने के नुकसान।

कम उम्र में प्रेग्नेंसी की समस्या से बचने के लिए उरुग्वे की सरकार ने एक एप लॉंच किया है। इसका नाम रखा है सेक्स गुरु। सेक्स गुरु टीन एजर लड़कियों को प्रेग्नेंसी जुडे जोखिमों के बारे में शिक्षित कर रहा है।

एक सर्वे के अनुसार देश में करीब 17 प्रतिशत नवजात शिशुओं की मांओं की उम्र 15 से 19 वर्ष के बीच है। अल ऑब्सरवेडर दैनिक के अनुसार प्रत्येक वर्ष करीब 7,900 नवजात बच्चों को किशोरियां जन्म देती हैं। यह कुल जन्म लेने वाले बच्चों का 16.9 प्रतिशत है। यह उच्च दर वर्ष 1996 के बाद से स्थिर बनी हुई है।