ज़ाकिर पर सरकार सख्त, केबल चैनल पर दिखा पीस टीवी तो होगी ये बड़ी कार्रवाई

नई दिल्ली (8 जून): जाकिर नाईक और पीस टीवी पर सरकार ने सख्ती शुरू कर दी है। सूचना प्रसारण मंत्री वेंकैया नायडू ने  बिना लाइसेंस वाले चैनलों पर सख्त कार्रवाई के निर्देश दिये हैं। बैठक के बाद सूचना प्रसारण राज्यमंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने कहा कि जो चैनल लाइसेंस वाले नहीं हैं, अगर उनका प्रसारण केबल आपरेटर करते हैं तो उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। उनका सामान भी जब्त किया जाएगा। इस सिलसिले में एडवाइजरी भी जारी की जा रही है।

सरकार ने जाकिर नाईक के यूआरएल को ब्लाक कर दिया है। राठौड़ ने बताया कि सभी जिलों के डीएम को कहा गया है कि जिन चैनलों का लाइसेंस नहीं है, उनका प्रसारण रोकें। सरकार ने यह कदम जाकिर हुसैन और उनके टीवी चैनल पीस टीवी पर चल रहे विवाद के बीच लिया है। इसी सिलसिले में बैठक के बाद राज्यमंत्री राठौड़ ने कहा कि जिन चैनल को ब्रॉडकास्टिंग की अनुमति होती है, उन्हें ही लाइसेंस दिया गया है। जो बिना लाइसेंस के चैनल चला रहे हैं, उनके उपकरण  ज़ब्त हो सकते है। वेंकैया नायडू ने कहा कि सरकार ये पता लगाएगी कि कनाडा यूके और मलेशिया में पीस टीवी को किस आधार पर ब्लाक किया गया है। इस बाबत विदेश मंत्रालय की मदद ली जाएगी।