Blog single photo

सरकार का ऐलान, ऐसे खातों में डालेगी 2500 रुपये

नोटबंदी के बाद लोगों ने कयास लगाना शुरू कर दिया था कि उनके खाते में काले धन के कुबेरों से पकड़ी गई रकम का कुछ हिस्सा मोदी सरकार डालेगी। लेकिन अब सरकार ने लोगों के खाते में 2500 रुपये

Photo: Google 

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (20 दिसंबर): नोटबंदी के बाद लोगों ने कयास लगाना शुरू कर दिया था कि उनके खाते में काले धन के कुबेरों से पकड़ी गई रकम का कुछ हिस्सा मोदी सरकार डालेगी। लेकिन अब सरकार ने लोगों के खाते में 2500 रुपये डालने का निर्णय किया है। हालांकि यह पैसा सिर्फ उन लोगों को मिलेगा, जिन्होंने नोटबंदी के बाद जनधन योजना के तहत खाता खुलवाया। इसके अलावा यह योजना सिर्फ असम के चाय बगान में काम करने वाले लोगों को ही मिलेगी।

असम में राज्‍य सरकार ने चाय बागानों में काम करने वाले 7 लाख से अधिक श्रमिकों के बैंक खातों में ढाई-ढाई हजार रुपये जमा करने के फैसले की घोषणा की। यह राशि उन खातों में जमा कराई जाएगी जो दो साल पहले नोटबंदी के ठीक बाद खोले गए हैं। सरकार ने बजट 2017-18 में ऐसे खातों में प्रोत्साहन के रूप में 5000 रुपये जमा कराने की घोषणा की थी। यह उसकी दूसरी किश्त है।

असम के वित्त मंत्री हेमंत विश्व शर्मा ने कहा, ‘सरकार ने इस योजना के दूसरे भाग को जारी करने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। पहले बार के सभी लाभार्थियों को उनके बैंक खातों में 12 जनवारी 2019 को दूसरे हिस्से की राशि मिल जाएगी।’ असम सरकार ने पहले चरण में 26 जिलों में 752 बागानों के 7,21,485 श्रमिकों के खाते में 2500-2500 रुपये जमा कराए थे। पहले चरण में इस योजना पर 182 करोड़ रुपये खर्च हुए थे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 8 नवंबर 2016 को उस समय चलन में रहे 1000 और 500 के नोटों को चलन से हटाने की घोषणा की थी। जिसके बाद बैंकों के बाहर लंबी-लंबी कतारे देखने को मिली। हालाांकि सरकार की तरफ से कहा गया कि इससे काले धन पर लगाम लगाने में मदद मिलेगी और डिजिटल करेंसी को बढ़ावा दिया जा सकेगा, लेकिन हाल में आई रिपोर्ट के अनुसार, फिर से लोग कैश में काम कर रहे हैं।

NEXT STORY
Top