दलाई लामा के अरुणाचल दौरे को मोदी सरकार ने दी हरी झंडी, चीन की उड़ी नींद

नई दिल्ली(27 अक्टूबर): पीएम मोदी की अगुवाई वाली केंद्र सरकार ने तिब्बती धर्मगुरु दलाई लामा के अरुणाचल प्रदेश दौरे को हरी झंडी दे दी है। उनका यह दौरा अगले साल के शुरू में प्रस्तावित है। भारत के इस कदम से चीन की नाराजगी बढ सकती है। चीन चंद दिनों पहले ही भारत में अमेरिका के राजदूत रिचर्ड वर्मा के तवांग दौरे पर विरोध जता चुका है।

हालांकि, विदेश मंत्रालय ने चीन की उस आपत्ति को खारिज कर दिया था. जो 21 अक्टूबर को वर्मा के अरुणाचल के तवांग  दौरे को लेकर थी। मंत्रालय का कहना था कि यह राज्य भारत का अभिन्न हिस्सा है। एक अंग्रेजी बेवसाइट में छपी खबर के मुताबिक सरकार ने तिब्बत के निर्वासित नेता दलाई लामा के प्रस्तावित अरुणाचल प्रदेश दौरे को मंजूरी दे दी है। चीन ने 2009 में भी दलाई लामा के अरुणाचल प्रदेश दौरे का विरोध किया था। मौजूदा दलाईो लामा 1959 में तवांग के जरिए चीन से भारत पहुंचे थे। इससे पहले के भी एक दलाई लामा का जन्म तवांग में हुआ था।