सरकार का तोहफा, 128 रूटों पर 2500 रुपए में कीजिए हवाई यात्रा

नई दिल्ली ( 30 मार्च ): केंद की मोदी सरकार ने यात्रियों को बड़ी राहत दी है। उड्डयन राज्य मंत्री जयंत सिन्हा ने गुरुवार को जानकारी दी कि भारत सरकार देश के छोटे शहरों में विमानन सेवा का विस्तार करने के लिए वित्तीय सहायता देगी।


जयंत सिन्हा कहा कि केंद्र सरकार इस काम के लिए 205 करोड़ रुपये देगी। भारत सरकार ने क्षेत्रीय कनेक्टिविटी योजना 'उड़ान' शुरू की है। इस योजना को शुरू करने के पीछे सरकार का मकसद ज्यादा से ज्यादा लोगों को विमान से यात्रा करने के लिए प्रेरित करना है। इस योजना के तहत सरकार ने किराया निर्धारित किया है।


वहीं, उड्डयन सचिव आर एन चौबे ने कहा कि उड़े देश का आम नागरिक (उड़ान) योजना के तहत पहली फ्लाइट अगले महीने से शुरू हो जाएगी। उन्होंने कहा, 'उम्मीद करते हैं कि अगले महीने से पहली रीजनल फ्लाइट शूरू हो जाएगी।


सरकार ने बताया कि 5 एयरलाइन कंपनियों की ओर से दायर 27 प्रस्तावों का चयन किया गया है। ये कंपनियां देशभर के 128 रूटों को जोड़ेंगी। 


इस योजना के तहत सरकार और 31 हवाई अड्डों से उड़ाने सेवा शुरू करेगी। चौबे ने कहा, 'नागरिक उड्डयन के सौ साल में शेड्युल्ड कमर्शल फ्लाइट्स से सिर्फ 76 एयरपोर्ट्स ही जुड़ पाए। लेकिन, नई एविएशन पॉलिसी की घोषणा के एक साल के अंदर 31 और एयपोर्टों को कनेक्ट कर लिया जाएगा।' उड़ान योजना के तहत सरकार हर व्यक्ति को 2,500 रुपये में एक घंटे की हवाई यात्रा का टिकट देने की घोषणा कर चुकी है।