सरकार कुछ और बैंको का कर सकती है विलय, प्रस्ताव पर काम जारी

नई दिल्ली (17 जुलाई): एनपीए कम करने और बैंकों की गतिशीलता को बढाने के लिए संघीय सरकार कुछ और बैंकों के विलय के प्रस्ताव पर काम कर रही है। जिससे इनकी संख्या 21 से घटकर 10-12 हो सकती है। इसके ज़रिए वैश्विक आकार के 3-4 बैंक बनाने की योजना है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पंजाब एंड सिंध बैंक और आंध्रा बैंक स्वतंत्र संस्थाओं के रूप में जारी रहेंगे और कुछ मध्यम आकार के बैंक भी मौजूद होंगे।