आज से सफर के लिए खुल जाएगी दुनिया की सबसे लंबी रेल टनल

अर्स्टफील्ड, स्विट्जरलैंड (1 जून) :  दुनिया की सबसे लंबी रेल सुंरग का आधिकारिक तौर पर बुधवार को उद्घाटन हो रहा है। इस 'गोथार्ड बेस टनल' का पहना डिजाइन सात दशक पहले तैयार किया गया था। ये 57 किलोमीटर लंबी सुरंग आल्प्स पर्वतमाला के नीचे बनाई गई है और अर्स्टफील्ड को बोडियो से जोड़ती है।   

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक गोथार्ड पास के नीचे इस सुरंग का कच्चा ख़ाका पहली बार 1947 में स्विस इंजीनियर कार्ल एडुआर्ड ग्रूनर ने खींचा था। लेकिन परियोजना की मोटी लागत और नौकरशाही के अड़ंगों की वजह से इस सुरंग का निर्माण 1999 में ही शुरू हो सका। सुंरग का निर्माण 17 साल में पूरा हुआ और इस पर करीब 12 अरब डॉलर खर्च आया। अब ये सुरंग पहली यात्रा के लिए तैयार है।

जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल, फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांसवा ओलांदे और इटली के प्रधानमंत्री मेटियो रेंज़ी सुरंग से होने वाली पहली ट्रेन यात्रा में शामिल रहेंगे। दिसंबर में पूरी तरह ऑपरेशनल होने के बाद इस सुरंग से स्विट्जरलैंड के ज्यूरिख से इटली के मिलान के बीच होने वाली ट्रेन यात्रा में दो घंटे 40 मिनट का समय लगेगा। अभी इस यात्रा में 3 घंटे 40 मिनट का समय लगता है।