गोरखपुर हादसा: ऑक्सीजन सप्लाई करने वाली कंपनी पुष्‍पा का मालिक अरेस्ट


गोरखपुर (18 सितंबर): गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल क‍ॉलेज में ऑक्सीजन सप्लाई रूकने से हुई बच्चों की मौत के मामले में पुष्पा सेल्स के मालिक मनीष भंडारी को अरेस्ट कर लिया गया है।

मनीष भंडारी ने कोर्ट में एप्लीकेशन लगाकर सरेंडर करने की इजाजत मांगी थी। आरोप था कि हॉस्पिटल मैनेजमेंट और पुष्पा सेल्स के बीच पेमेंट को लेकर विवाद था, जिसकी वजह से कंपनी ने हॉस्पिटल को ऑक्सीजन सप्लाई बंद कर दी थी। आरोप यह भी है कि बच्चों की मौत ऑक्सीजन की कमी की वजह से ही हुई।

इस मामले में नौ लोगों को आरोपी बनाया गया था। इनमें से आठ पहले ही अरेस्ट किए जा चुके हैं। पुलिस के मुताबिक, मनीष को रविवार सुबह गोरखपुर के देवरिया बायपास रोड से अरेस्ट किया गया। वह बिहार जाने की फिराक में था। फिलहाल उससे पूछताछ की जा रही है कि अब तक वो कहां-कहां रहा। रविवार को कोर्ट बंद होने की वजह से मनीष की पेशी सोमवार को होगी।

क्या था मामला?
बाबा राघव दास (BRD) मेडिकल कॉलेज में 7 अगस्त से लेकर 12 अगस्त तक 30 बच्चों समेत 60 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी थी। आरोप है कि ये मौतें हॉस्पिटल में ऑक्सीजन की सप्लाई बंद होने की वजह से हुईं। कहा गया कि पुष्पा सेल्स नाम की कंपनी ने पेमेंट बकाया होने की वजह से ऑक्सीजन सिलेंडर की सप्लाई रोक दी थी। कंपनी ने कहा कि हमने 14 रिमांडर भेजे, लेकिन इसके बाद भी मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल ने कोई एक्शन नहीं लिया।