गोरखपुर मामले में बड़ी कार्रवाई, हटाई गईं डॉ. अनीता भटनागर

लखनऊ (22 अगस्त): गोरखपुर बीआरडी मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन की कमी के कारण बच्चों की हुई मौत के मामले में मुख्य सचिव की रिपोर्ट मिलने के बाद योगी सरकार ने बड़ी कार्रवाई की है। योगी सरकार ने अनिता भटनागर जैन को अपर मुख्य सचिव चिकित्सा शिक्षा के पद से हटा दिया है। उनकी जगह प्रमुख सचिव राजस्व रजनीश दुबे को चिकित्सा शिक्षा विभाग का अतिरिक्त प्रभार सौंपा गया है।

बीआरडी मेडिकल कॉलेज में 10-11 अगस्त को ऑक्सीजन की कमी को लेकर बच्चों की हुई मौत के मामले में मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य से लेकर कई अन्य जिम्मेदार डॉक्टरों को लापरवाही का तो दोषी माना गया था। बीआरडी मेडिकल कॉलेज में बच्चों की मौत के बाद कई स्तरों पर अधिकारियों की उदासीनता और लापरवाही की बातें सामने आई थीं। बताया गया था कि ऑक्सीजन की आपूर्ति करने वाली फर्म ने कॉलेज के प्राचार्य से लेकर महानिदेशक चिकित्सा शिक्षा और अपर मुख्य सचिव चिकित्सा शिक्षा तक को कई पत्र भेजे थे, फिर भी किसी ने इसे गंभीरता से लेकर भुगतान के लिए तत्परता नहीं बरती।