नड्डा ने यूपी सरकार से मांगी रिपोर्ट, सिद्धार्थ नाथ सिंह को फटकारा

नई दिल्ली (12 अगस्त): गोरखपुर के सरकारी अस्पताल में पिछले 6 दिनों से भीतर 63 मासूम बच्चों की मौत के बाद हाहाकार मच गया है। गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज 69 लाख रुपये का भुगतान न होने की वजह से ऑक्सीजन सप्लाई करने वाली फर्म ने ऑक्सीजन की सप्लाई गुरुवार की रात से ठप कर दी थी। इसके बाद यहां ऑक्सीजन की कमी से 63 बच्चों ने दम तोड़ दिया, हालांकि अस्पताल प्रशासन ने ऑक्सीजन की कमी की बात से इनकार किया है।

सूबे के स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह की अस्पताल प्रशासन के साथ बैठक की है। केंद्रीय मंत्री जेपी नड्डा ने भी यूपी सरकार से मामले की विस्तृत रिपोर्ट मांगी है। सूत्रों के हवाले से खबर है कि उन्होंने स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह को कड़ी फटकार लगाई है। जेपी नड्डा ने राज्य मंत्री अनुप्रिया पटेल को गोरखपुर का दौरा कर मामले की जानकारी लेने के निर्देश दिए हैं। अनुप्रिया पटेल दिल्ली से गोरखपुर के लिए रवाना हो चुकी हैं। 

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा ने उत्तर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह को फोन कर ऑक्सीजन बंद होने के बारे में सवाल पूछे हैं। साथ ही सिद्धार्थ नाथ सिंह को जेपी नड्डा ने कड़ी फटकार लगाई है। 

विपक्ष इस पूरे मामले को लेकर यूपी सरकार पर हमलावर है। कांग्रेस का एक प्रतिनिधिमंडल गुलाम नबी आजाद की अगुवाई में गोरखपुर पहुंचा और पीड़ितों से मुलाकात की।