Android OS में बग ढूंढा तो Google देगा सवा करोड़ रुपये का इनाम

नई दिल्ली (6 जून):  ‘जूडी’ नाम के मालवेयर से 3.65 करोड़ एंड्रायड फोन के प्रभावित होने के एक दिन बाद ही गूगल ने एंड्रायड ओएस में बग ढूंढने वाले को दिए जाने वाले इनाम देने का फैसला किया है।

 साइबर सुरक्षा फर्म चेक प्वाइंट के अनुसार, प्ले स्टोर से दर्जनों मालवेयर एप 45 लाख से 1.85 करोड़ बार तक डाउनलोड किए गए। इनमें से कई मालवेयर एप तो कई सालों से प्ले स्टोर पर हैं।

 आपको बता दें कि एंड्रायड के नये एडिशन सुरक्षित हैं, खतरा उन ऑपरेटिंग सिस्टम्स को है जिसे गूगल ने सालों पहले बनाया  था। इसलिए अभी तक गूगल के नए एंड्रायड में कोई भी बग ढूंढकर इनाम पाने में अभी तक सक्षम नहीं हुआ है।

 भारत भी इस बग से अछूता नहीं है। इसलिए कंपनी जल्द से जल्द इस समस्या का समाधान ढूंढ़ रही है। जूडी मालवेयर साइबर हमलावरों द्वारा बनाया गया एक ऐसा सॉफ्टवेयर है जो अपने चपेट में आए स्मार्टफोन की सहायता से इसमें मौजूद एडवरटिजमेंट पर जबर्दस्त फर्जी क्लिक करवाता है, ताकि इसे बनाने वाली कंपनियों को फायदा हो सके।

आपको बता दें कि जूडी मालवेयर से पहले दुनिया में वॉनाक्राइ नाम के वायरस ने हलचल मचा दी थी। इस वायरस ने कई पश्चिमी देश आए थे। इस कम्प्यूटर वायरस के हमले की वजह से ब्रिटेन में अस्पताल सेवाएं भी प्रभावित हुईं थी।