मंदिर में हुई इफ्तार पार्टी, अब गोमूत्र से होगा शुद्दीकरण

नई दिल्ली (2 जुलाई): कर्नाटक से एक ऐसी हैरान करने वाली घटना सामने आई है, जिसने एक बार फिर सभी को हैरान कर दिया है। यहां के उडुपी के प्राचीन कृष्ण मठ परिसर में सद्भावना के तौर पर इफ्तार की दावत का आयोजन करने पर श्रीराम सेना ने राज्यभर में विरोध शुरू कर दिया है।

इसी के तहत श्रीराम सेना की जिला इकाई और हिंदू जनजागृति समिति ने अब संडे को उडुपी के क्लॉक टावर पर प्रार्थनाएं करने और भजन गाने का कार्यक्रम बनाया है। यही नहीं, इन संगठनों की ओर से 24 जून को इफ्तार की दावत करने और इस दौरान नमाज पढ़े जाने पर कृष्ण मंदिर परिसर स्थित हॉल का गोमूत्र से 'शुद्धीकरण' करने की भी योजना है।

मंदिर परिसर में मुसलमानों के लिए 'सौहार्द्र कूट' का आयोजन पर्याय पेजावर मठ के प्रमुख विश्वेष तीर्थ स्वामीजी की तरफ से किया गया था। यह बात श्रीराम सेना को रास नहीं आई। शुक्रवार को मीडिया से बातचीत में श्रीराम सेना की मेंगलुरु डिविजन के सचिव मोहन भट्ट ने कहा कि स्वामीजी से आपत्ति जताई गई थी