सॉवरेन गोल्ड बांड में निवेश करने से चुक गए तो निराश ना हो...

मनीष कुमार (17 जुलाई): एक बार फिर सरकार आपके लिए सॉवरेन गोल्ड बांड स्कीम लेकर आ रही, जिसमें आप निवेश कर सकते हैं। इस स्कीम में आप 18 से 22 जुलाई के बीच निवेश कर सकते हैं।

इस बार ज्यादा छोटे निवेशकों को आकर्षित करने के लिए सरकार ने 1 ग्राम सोना खरीदने की भी इजाजत दे दी है। ऊपरी निवेश की सीमा 500 ग्राम है। वहीं औसत निकालने के बाद एक ग्राम सोने के दाम सरकार ने 3115 रुपये तय किया है। साथ ही गोल्ड बांड पर 2.75 फीसदी का सलाना रिटर्न भी मिलेगा। गोल्ड बांड जारी होने के 8 साल बाद ये मैच्योर होगा पर पांचवें, छठे और सातवें साल में रिडिम कराने का आप्शन उपलब्ध है।

सोना खरीदकर आप जोखिम नहीं लेना चाहते तो आप सीधा सोने खरीदने की जगह सॉवरेन गोल्ड बॉंड में निवेश कर सकते हैं। गोल्ड सॉवरेन बांड में निवेश डिमैट अकाउंट के जरिए या पेपर यानि सर्टिफिकेट के तौर पर किया सकेगा, जो ठीक सोने के तौर पर का काम करेगा। साथ ही गोल्ड बांड पर आपको रिटर्न भी मिलेगा वो भी सोने के रुप में। हांलाकि सोने की कीमत में उतार चढ़ाव का जोखिम निवेशक को उठाना होगा।

इससे पहले जब सरकार 3 बार ये स्कीम लेकर आई थी तो 1318 करोड़ रुपये के वैल्यू का सरकार को 4.9 मिट्रिक टन के बराबर गोल्ड बांड बेचने में सफलता मिली थी। इय बार भी निवेशकों की तरफ से सरकार को बेहतर रेस्पांस की उम्मीद है।